Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

क्रेडाई ने कहा- 15 फीसदी तक महंगे हो सकते हैं मकान: सरिया, सीमेंट के दाम बढ़े, यह भी कारण

सरिया-सीमेंट की कीमतों में वृद्धि के बाद रियल एस्टेट सेक्टर से जुड़े लोगों का मानना है कि अप्रैल माह से मकान और संपत्तियों के दाम 10 से 15 फीसदी तक बढ़ेंगे। पिछले करीब 45 दिन में निर्माण लागत में 25 फीसदी तक की वृद्धि होने के कारण मकान बनाना महंगा पड़ रहा है।

क्रेडाई ने कहा- 15 फीसदी तक महंगे हो सकते हैं मकान: सरिया, सीमेंट के दाम बढ़े, यह भी कारण
X

भोपाल। सरिया-सीमेंट की कीमतों में वृद्धि के बाद रियल एस्टेट सेक्टर से जुड़े लोगों का मानना है कि अप्रैल माह से मकान और संपत्तियों के दाम 10 से 15 फीसदी तक बढ़ेंगे। पिछले करीब 45 दिन में निर्माण लागत में 25 फीसदी तक की वृद्धि होने के कारण मकान बनाना महंगा पड़ रहा है। डेवलपर्स की शीर्ष संस्था क्रेडाई ने मांग की है कि केंद्र और राज्य सरकार डेवलपर्स को इनपुट कर क्रेडिट (आइटीसी) की अनुमति देने के अलावा स्टांप शुल्क और जीएसटी दरों में कमी करें, ताकि इस सेक्टर से जुड़े लोगों और उद्योग और घर का सपना संजोने वालो को राहत मिलें।

क्रेडाई मध्यप्रदेश इकाई के अध्यक्ष वासिक हुसैन और प्रवक्ता मनोज मीक ने कहा कि अगर मकान खरीदने की योजना बना रहे हैं, तो अब ज्यादा पैसे चुकाने होंगे। मकान खरीदने के लिए 15 फीसदी तक ज्यादा भुगतान करना होगा। क्योंकि पिछले करीब 45 दिन में निर्माण लागत में 20 से 25 फीसदी की वृद्धि के कारण मकान महंगे हो सकते हैं। वासिक के अनुसार लोहा जैसे कच्चे माल की कीमतों में वृद्धि के कारण महंगाई की मार ग्राहकों पर पड़ेगी।

रियल एस्टेट जुड़े डेवलपर्सों ने कहा कि राज्य सरकार और केंद्र सरकार अनुमति देने के अलावा स्टांप शुल्क और जीएसटी दरों को कम करके उद्योग को राहत दे। संगठन ने मांग की है कि वह अपने सदस्यों को अभी निर्माण कार्य बंद करने की सलाह नहीं देगा। हालांकि यदि मूल्य वृद्धि जारी रहती है, तो रियल्टी कंपनियों के पास परियोजनाओं को रोकने और कच्चे माल की खरीद को स्थगित करने के अलावा कोई अन्य विकल्प नहीं होगा।

और पढ़ें
Next Story