Top
Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

राज्यमंत्री डॉ. जितेंद्र सिंह का ट्वीट, अब दूसरे राज्यों के छात्र भी जान सकेंगे जम्मू कश्मीर का इतिहास

जम्मू कश्मीर से विशेष राज्य का दर्जा हटने के बाद अब स्थिति बदल चुकी है। इस बीच अब एनसीईआरटी की किताब में जम्मू-कश्मीर और डोगरा राजवंश के बारे में पढ़ाया जाएगा।

राज्यमंत्री डॉ. जितेंद्र सिंह का ट्वीट, अब दूसरे राज्यों के छात्र भी जान सकेंगे जम्मू कश्मीर का इतिहास
X

जम्मू कश्मीर से विशेष राज्य का दर्जा हटने के बाद अब स्थिति बदल चुकी है। इस बीच अब एनसीईआरटी की किताब में जम्मू-कश्मीर और डोगरा राजवंश के बारे में पढ़ाया जाएगा। अब सिर्फ जम्मू-कश्मीर ही नहीं बल्कि देश के अन्य राज्यों में रहने वाले छात्र जम्मू कश्मीर के साथ डोगरा राजवंश के बारे में भी इतिहास जान सकेंगे।

केंद्रीय मंत्री डॉक्टर जितेंद्र सिंह ने ट्वीट कर कहा कि पहली बार प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने डोगरा राजवंश को सम्मान देने का काम किया है। अब एनसीईआरटी की आठवीं तक की क्लास में जम्मू कश्मीर के डोगरा राजवंश के बारे में अध्याय पढ़ाया जाएगा। इसको लेकर जम्मू-कश्मीर के भाजपा नेताओं ने केंद्र सरकार के प्रयास की सराहना की। तो वहीं दूसरी तरफ भाजपा प्रदेश के प्रधान वहीं दूसरी तरफ जम्मू कश्मीर भाजपा प्रदेश अध्यक्ष रविंद्र रैना ने भी केंद्र सरकार के काम की सराहना की है।

जानकारी के लिए बता दें कि जम्मू कश्मीर से धारा 370 हटाने के बाद जम्मू कश्मीर और लद्दाख अलग राज्य बन गए हैं। जिसके बाद अब केंद्र सरकार ने एनसीईआरटी की किताब में जम्मू कश्मीर के इतिहास को पढ़ाने का फैसला किया है। अब एनसीईआरटी की आठवीं तक की क्लास की किताबों में जम्मू कश्मीर का इतिहास पढ़ाया जाएगा।

ताकि जम्मू कश्मीर के छात्र ही नहीं बल्कि अन्य देशों में रह रहे छात्र भी जम्मू कश्मीर के बारे में जान सकें। इससे पहले जम्मू-कश्मीर एक अलग राज्य था। जिसके बारे में कम ही जानकारी लोगों को थी। लेकिन अब इसका इतिहास देश के छात्र भी जान सकेंगे।

इसमें सिख शासन, अमृतसर संधि, लाहौर दरबार का भी जिक्र है। इससे पहले जम्मू कश्मीर स्कूल शिक्षा बोर्ड अपनी पुस्तकों में अनुच्छेद 370 के बाद जम्मू कश्मीर के पुनर्गठन पर अध्याय शामिल कर चुका है।

Next Story