Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

जम्मू कश्मीर: एलओसी पर दिखी संदिग्ध गतिविधियां, उरी सेंक्टर में भारतीय सेना का सर्च ऑपरेशन जारी

रक्षा जनसंपर्क अधिकारी कर्नल एमरॉन मुसावी (Defense Public Relations Officer Colonel Amaron Mousavi) का कहना है कि बीती रात रात उरी सेक्टर में एलओसी के पास संदिग्ध गतिविधि देखी गई थी। इसके बाद से इलाके क्षेत्र में सर्च अभियान जारी है। बताया जा रहा है कि साल 2021 में उत्तरी कश्मीर में विशेष रूप से उरी सेक्टर, नौगाम, तंगधार, केरन, माछिल और गुरेज सेक्टरों में एलओसी पर घुसपैठ की कोशिशों में कमी आई है।

जम्मू कश्मीर: एलओसी पर दिखी संदिग्ध गतिविधियां, उरी सेंक्टर में भारतीय सेना का सर्च ऑपरेशन जारी
X

जम्मू कश्मीर (Jammu Kashmir) के उरी सेक्टर (Uri Sector) में भारतीय सुरक्षाबलों को कुछ संदिग्ध गतिविधियों का पता लगा है। इसके बाद भारतीय सेना ने नियंत्रण रेखा (LoC) पर तलाशी अभियान शुरू कर दिया है। मीडिया रिपोर्ट के अनुसार, भारतीय सेना अनिश्चय की स्थिति की शिकार है कि घुसपैठिए उरी सेक्टर में प्रवेश कर गए हैं या पाकिस्तान अधिकृत कश्मीर (PoK) वापस लौट गए हैं

रक्षा जनसंपर्क अधिकारी कर्नल एमरॉन मुसावी (Defense Public Relations Officer Colonel Amaron Mousavi) का कहना है कि बीती रात रात उरी सेक्टर में एलओसी के पास संदिग्ध गतिविधि देखी गई थी। इसके बाद से इलाके क्षेत्र में सर्च अभियान जारी है। बताया जा रहा है कि साल 2021 में उत्तरी कश्मीर में विशेष रूप से उरी सेक्टर, नौगाम, तंगधार, केरन, माछिल और गुरेज सेक्टरों में एलओसी पर घुसपैठ की कोशिशों में कमी आई है।

मीडिया रिपोर्ट के मुताबिक, सेना के 19 इंफैन्ट्री और 27 इंफैन्ट्री डिवीजनों के अधिकारियों ने भी एलओसी के पार से घुसपैठ की कोशिशों में गिरावट को स्वीकार किया है। 19 इंफैन्ट्री और 27 इंफैन्ट्री डिवीजनों के पास उरी से गुरेज तक एलओसी पर नजर रखने की जिम्मेदारी है।

सेना के एक वरिष्ठ अधिकारी का कहना है कि सतकर्ता में किसी भी तरह की कोई कमी नहीं की जा सकती है। यह हम नहीं जानतें हैं कि चीजें कब बदल जाएंगी। हमारे जवान लगातार निगरानी रख रहे हैं। एलओसी पर कड़ी निगरानी के कारण ही घुसपैठ के मामलों में कमी देखी गई है।

Next Story