Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

जम्मू कश्मीर : अनंतनाग में सरपंच की हत्या के बाद अंतिम संस्कार, पिता बोले- मेरा बेटा मरा नहीं है, वो तो शहीद हुआ है

जम्मू कश्मीर के अनंतनाग में बीते सोमवार को पंचायत के सरपंच अजय कुमार पंडित की आतंकवादियों ने हत्या कर दी।

जम्मू कश्मीर : अनंतनाग में सरपंच की हत्या के बाद अंतिम संस्कार, पिता बोले- मेरा बेटा मरा नहीं है, वो तो शहीद हुआ है
X

जम्मू कश्मीर के अनंतनाग में बीते सोमवार को पंचायत के सरपंच अजय कुमार पंडित की आतंकवादियों ने हत्या कर दी। जिसके बाद आज मंगलवार सुबह उनका अंतिम संस्कार किया गया।

मीडिया रिपोर्ट के मुताबिक, अनंतनाग के डूरू लकबावन गांव के रहने वाले सरपंच के पिता ने कहा कि बेटे ने पिछले साल भाजपा के उम्मीदवार को हरा के सरपंच का चुनाव जीता था। बीते साल से ही सरकार से सुरक्षा की मांग कर रहे थे। पिता ने कहा कि मैंने बेटे को मना किया था। लेकिन बोला कि यहां से हम नहीं भागेंगे यही रहूंगा और यही मरूंगा।

जानकारी के लिए बता दें कि सोमवार को आतंकवादियों ने अनंतनाग में सरपंच अजय कुमार की हत्या घर से 50 मीटर की दूरी पर गोली मारकर हत्या कर दी।

सरपंच के पिता पेशे से रिटायर्ड टीचर हैं और 30 साल पहले वह इसी गांव से अपने पूरे परिवार के साथ जम्मू चले गए थे। लेकिन एक बार फिर वह अपने गांव वापस लौटे लेकिन इस बार बेटे का शव लेकर वापस जम्मू पहुंच गए । सरपंच के पिता ने कहा कि बीती शाम एक शख्स घर पर आया और अजय से कहने लगा कि उसको एक फॉर्म पर सिग्नेचर की जरूरत है, जैसे ही वह घर से निकला। तभी थोड़ी दूर पर अजय को पीछे से सिर पर गोली मार दी।

इसके बाद तुरंत इलाके में हाहाकार मच गई और तुरंत हमने अजय को अस्पताल में भर्ती किया। लेकिन वह नहीं बच सका । जानकारी के लिए बता दें कि बेटे के अंतिम संस्कार कर लौटे पिताजम्मू के सुभाष नगर में अपने पड़ोसियों के साथ आ गए।

उन्होंने कहा कि मैंने अपने बेटे को बार-बार मना किया था। लेकिन वह बोलता था कि वह किसी से डरता नहीं है। कहा किजब सेना के जवान ड्यूटी कर रहे हैं , तो हमें क्यों यहां से भागना चाहिए। मेरा बेटा मरा नहीं है, वो तो शहीद हुआ है अपनी मातृभूमि के लिए।

Next Story