Top
Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

हिमाचल के ऊपरी क्षेत्रों में बारिश होने से कोलडैम का वाटर लेवल बढ़ा, खोले गए डैम के गेट

हिमाचल प्रदेश के बिलासपुर और मंडी जिलों की सीमा पर बने कोलडैम में पानी की मात्रा बढ़ने से डैम के गेट खोलने पड़े हैं। यह कोलडैम सतलज नदी बिलासपुर और मंडी जिलों को अलग करती है। इस परियोजना से उत्पन्न बिजली का 12% हिस्सा हिमाचल प्रदेश को मुफ्त दिया जाएगा एवं 15% हिस्सा उत्पादन मूल्य पर दिया जाएगा।

हिमाचल के ऊपरी क्षेत्रों में बारिश होने से कोलडैम का वाटर लेवल बढ़ा, खोले गए डैम के गेट
X
फाइल फोटो

हिमाचल प्रदेश के बिलासपुर और मंडी जिलों की सीमा पर बने कोलडैम में पानी की मात्रा बढ़ने से डैम के गेट खोलने पड़े हैं। यह कोलडैम सतलज नदी बिलासपुर और मंडी जिलों को अलग करती है। इस परियोजना से उत्पन्न बिजली का 12% हिस्सा हिमाचल प्रदेश को मुफ्त दिया जाएगा एवं 15% हिस्सा उत्पादन मूल्य पर दिया जाएगा। इन दिनों हिमाचल के ऊपरी क्षेत्रों में बारिश होने के कारण कोलडैम में पानी का लेवल ज्यादा होने के कारण कोल डैम के गेट खोलने पड़े हैं।

हिमाचल प्रदेश के जिला बिलासपुर के कोलडैम में जायदा वाटर लेबल होने के कारण पानी छोड़ा जा रहा है। ऊपरी क्षेत्रों में लगातार हो रही बरसात के कारण कॉल डैम का वाटर लेवल लगभग 3 से 4 मीटर तक बढ़ चुका है। जिसके तहत गेट खोल कर गोविंद सागर झील में पानी छोड़ा जा रहा है। कोलडैम में अधिक पानी आने से आसपास के केई गांवों को डर सताने लगता है। इसीलिए कोलडैम प्रशासन क्षमता से अधिक पानी को गोविंद सागर झील में छोड़ देता है।

Next Story