Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

Himachal: बगीचों में अब अमेरिका समेत कई विदेशी किस्मों के अखरोट की भी हो रही पैदावार, जानें फायदे

हिमाचल प्रदेश के शिमला, कुल्लू समेत कई जिलों में अखरोट की पैदावार होती है। पर यहां अखरोट के पेड़ दूर-दूर लगे हुए हैं। इस वजह ये यहां अखरोट का उत्पादन बेहतर नहीं हो पाता था। वहीं अब अखरोट के उत्पादन को बेहतर करने व इसे प्रदेश वासियों की आर्थिकी स्थिति से जोड़ने के लिए बागवानों को अमेरिका समेत कई विदेशी किस्में आवंटित की जा रही हैं।

Himachal: बगीचों में अब अमेरिका समेत कई विदेशी किस्मों के अखरोट भी हो रही पैदावार, जानें फायदे
X

प्रतीकात्मक तस्वीर

हिमाचल प्रदेश (Himachal Pradesh) के शिमला (Shimla) समेत कई जिलों में अमेरिका समेत अखरोट की कई विदेशी किस्मों (Many exotic varieties of walnuts) की पैदावार भी होने लगी है। इन किस्मों को विकसित करने हेतु बागवानी विभाग (Horticulture Department) द्वारा कई वर्ष पूर्व कवायद शुरू की गई थी। इसके बाद विभिन्न इलाकों में विदेशी किस्मों का अखरोट पैदा हो रहा है। फ्रांस व अमेरिका से आयात की गई अखरोट की किस्मों का छिलका भी बहुत नरम होता है। जिसकी गुणवत्ता सामान्य अखरोट के मुकाबले बेहतर होती है। विभाग द्वारा वक्त-वक्त पर बागवानों को ये किस्में बांटी गई थीं। जिसके अब सकारात्मक रिजल्ट आने शुरू होने लगे हैं।

राज्य में समुद्र तल से करीब 1200 से 2200 मीटर की ऊंचाई के क्षेत्रों में अखरोट सुगमता से उगाया जा सकता है। शिमला, कुल्लू, मंडी, कांगड़ा, चंबा, सोलन और किन्नौर में अखरोट की पैदावार होती है। पर इन जगहों पर अखरोट के पेड़ दूर-दूर लगे हुए हैं। वहीं अब अखरोट को हिमाचल के लोगों की आर्थिकी से जोड़ने के लिए बागवानी विभाग द्वारा कई विदेशी किस्में बागवानों को बांटी जा रही हैं। यहां कई बागवानों द्वारा इन किस्मों को अपने बगीचे में लगाया भी गया है। भारत के 4 राज्यों हिमाचल प्रदेश, जम्मू-कश्मीर, उत्तराखंड व अरुणाचल में अखरोट का उत्पादन किया जाता है।

सर्वाधिक 90 प्रतिशत उत्पादन अकेले जम्मू-कश्मीर राज्य में होता है। हिमाचल प्रदेश में करीब 1700 मीट्रिक टन अखरोट का उत्पादन होता है। अखरोट की अच्छी किस्म ना होने की वजह से उत्पादन भी बेहतर नहीं हो पा रहा है। प्रदेश सरकार व बागवानी विभाग अब बढ़िया किस्म को ईजाद करने की कोशिश में लगी हुए हैं। वहीं बागवानी विभाग के उपनिदेशक विद्या प्रकाश का कहना है कि विभाग द्वारा अमेरिका, फ्रांस की अखरोट की उम्दा किस्मों को बागवानों को उपलब्ध करवाया जा रहा है। बीते कई साल से ये किस्म बागवानों को बांटी भी गई हैं। उनमें गिल्ट, चाइको, फेरनोर, फोर्ड, पायने टुलारे आदि किस्में शामिल हैं।

Next Story