Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

विकास दुबे ने 21 वर्षीय लड़की की हत्या कर दफनाया, परिजनों की शिकायत पर ऐसे खुला राज

हिमाचल प्रदेश (Himachal Pradesh) के ऊना जिले से मानवता को शर्मसार कर देने वाली खबर सामने आई है। बता दें कि यहां एक मंदिर (temple) के पुजारी पर 21 साल की लड़की की हत्या करने का आरोप लगा है।

विकास दुबे ने 21 वर्षीय लड़की की हत्या कर शव दफनाया दिया था मंदिर के पीछे
X

प्रतीकात्मक तस्वीर

हिमाचल प्रदेश के ऊना जिले में विकास दुबे ने 21 वर्षीय युवती की हत्या कर उसके शव को मंदिर के पीछे दफना दिया। यह विकास दुबे उत्तर प्रदेश के कानपुर में पुलिस एनकाउंटर में मारा गया विकास दुबे नहीं बल्कि ऊना जिले में एक मंदिर का पुजारी है। जिसने इस रौंगटे खड़े कर देने वाली वारदात को अंजाम दिया है। युवती थाना गगरेट के जाडला कौड़ी की रहने वाली थी। परिजनों के अनुसार, लड़की 3 अप्रैल से लापता थी। परिवार वालों ने लड़की (Girl) की गुमशुदगी की शिकायत पुलिस को दे रखी थी। पुलिस (himachal police) 3 अप्रैल से ही लड़की को खोज कर रही थी।

मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक, गगरेट के जाडला कौड़ी निवासी युवती 3 अप्रैल से अपने घर से लापता थी। उसके परिजन उसकी तलाश में जुटे थे। उन्होंने इसकी जानकारी अपने एरिया के थाना पुलिस को भी दी थी। पुलिस के जगह-जगह खोजने के बाद भी जब लड़की नहीं मिली तो पुलिस ने शक के आधार पर मंदिर के पुजारी को पूछताछ के लिए गिरफ्तार (Arrest) कर लिया। पुजारी से जब कड़ाई से पूछताछ की गई तो उसने लड़की को मारकर मंदिर के पीछे दबाने की बात स्वीकार की।

पुलिस अब घटना स्थल पर पहुंच कर शव की तलाश कर रही है। वहीं आरोपी पुजारी से पुलिस यह भी पूछने की कोशिश कर रही है कि उसने लड़की को क्यों मारा। पुलिस उसके पीछे के कारणों के बारे में पता लगाने की कोशिश कर रही है। बताया जा रहा है की पुजारी मंदिर पर पिछले 4 वर्ष से रह रहा था। जिसका नाम विकास दुबे है।

युवती कर रही थी एमकॉम

बता दें कि युवती 3 अप्रैल से लापता थी, जिसको लेकर पुलिस लगातार तलाश कर रही थी। सूचना मिलने के बाद जहां पुलिस मौके पर पहुंच गई, वहीं ग्रामीणों का हजूम भी एकत्रित हो गया। आरोपी ने पुलिस की पूछताछ में कबूल किया है कि उसने शनिवार की दोपहर 2 बजे के करीब सिर में लोहे की रॉड मारकर युवती की हत्या कर दी थी। युवती एमकॉम की छात्रा थी और मन्दिर परिसर के बेहद नजदीक उसका घर था। शनिवार को युवती मन्दिर में आई और आरोपित ने उसके सिर में लोहे की रॉड मार दी। ये घटना उस समय हुई जब मन्दिर का मुख्य पुजारी मन्दिर में नहीं था।

ग्रामीणों ने मंदिर में की तोड़फोड़

ग्रामीणों ने मंदिर के परिसर में तोड़फोड़ की है। इस दौरान पुलिस से धक्कामुक्की की है और साथ ही दरवाजे और खड़कियां तोड़ डाले हैं। ग्रामीणों की मांग है कि आरोपी पुजारी को उनके हवाले किया जाए। डीएसपी अम्ब की अगुवाई में शव बाहर निकाल लिया है। मृतक युवती की पहचान नेहा देवी पुत्री दिलबाग सिंह निवासी जाडला कोयडी के रूप में हुई है।

नेहा को मारकर शव डाल दिया था बैग में

आरोपी ने शव को एक बैग में भरकर मन्दिर परिसर के पीछे खुले खेत में रखकर दबा दिया था। पुलिस अब आरोपी की निशानदेही पर घटना स्थल पर डेड बॉडी रिकवर कर ली है। पुलिस ने मोबाइल लोकेशन और युवती के मोबाइल की कॉल डिटेल के आधार पर युवती की तलाश की। डीएसपी अम्ब सृष्टि पांडे ने मामले की पुष्टि करते हुए बताया कि फिलहाल आरोपी ने अपना गुनाह कबूल कर लिया है और उसकी निशानदेही पर पुलिस डेडबॉडी रिकवर कर ली है। आरोपी से आगे की पुछताछ की जा रही है।

Next Story