Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

कोरोना काल में भी चल रहा है रिश्वतखोरी कां धंधा, 4 माह में पकड़े इतने घूसखोर

हिमाचल प्रदेश (State) में कोरोना के कहर के बीच अधिकारी और कर्मचारी (Officers and employees) रिश्वतखोरी से बाज नहीं आ रहे हैं। जनवरी 2021 से लेकर अप्रैल 2021 तक मात्र चार माह के बीच ही प्रदेश भर में 16 अधिकारियों-कर्मचारियों को विजिलेंस विभाग (Vigilance Department) ने रिश्वत लेते हुए रंगे हाथों पकड़ा है।

कोरोना काल में भी चल रहा है रिश्वतखोरी कां धंधा, 4 माह में पकड़े इतने घूसखोर
X

प्रतीकात्मक तस्वीर

हिमाचल प्रदेश (State) में कोरोना के कहर के बीच अधिकारी और कर्मचारी (Officers and employees) रिश्वतखोरी से बाज नहीं आ रहे हैं। जनवरी 2021 से लेकर अप्रैल 2021 तक मात्र चार माह के बीच ही प्रदेश भर में 16 अधिकारियों-कर्मचारियों को विजिलेंस विभाग (Vigilance Department) ने रिश्वत लेते हुए रंगे हाथों पकड़ा है। इस दौरान जिला ऊना (Una District) में सबसे अधिक चार अधिकारियों को रिश्वत लेते पकड़ा गया है।

मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक, विजिलेंस विभाग से प्राप्त आंकड़ों के अनुसार प्रदेश भर में विजिलेंस विभाग को मिली शिकायतों के बाद 16 लोगों को रिश्वत लेते हुए रंगे हाथों पकड़ा गया है। इस दौरान जिला ऊना में सबसे अधिक चार लोगों को पकड़ा गया है। दूसरे नंबर पर मंडी है। मंड़ी जिले में भी यह कार्य जारी है। यहां पर भी अधिकारी रिश्वत लेने से बाज नहीं आ रहे हैं।

यहां पर तीन अधिकारियों पर रिश्वत लेने के आरोप लगे हैं। वहीं नाहन, बिलासपुर और कुल्लू से दो-दो लोगों को रिश्वत के साथ पकड़ा गया है। सोलन, धर्मशाला और हमीरपुर से एक-एक रिश्वतखोर को विजिलेंस विभाग की टीम ने जाल बिछा कर रंगे हाथों पकड़ा है। आपको बता दें कि प्रदेश में रिश्वत खोरी इतनी बढ़ गई हैं कि लोग परेशान हैं। आलम यह हैं कि लोगों को अपने छोटे से छोटे काम को कराने के लिए भी रिश्वत देनी पड़ रही है।

Next Story