Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

मनाली की वादियों को निहारने के दौरान केंद्रीय मंत्री ने बोली ये बड़ी बात, जानने के लिए पढ़ें ये खबर

हिमाचल प्रदश (Himachal Pradesh) के पांच दिवसीय दौरे पर पहुंचे केंद्रीय मंत्री नितिन गडकरी (Union Minister Nitin Gadkari) अपने कुल्लू जिले के दौरे के दूसरे दिन गुरुवार को मनाली (Manali) की वादियों को निहारने पहुंचे।

मनाली की वादियों को निहारने के दौरान केंद्रीय मंत्री ने बोली ये बड़ी बात, जानने के लिए पढ़ें ये खबर
X

मनाली की वादियों को निहारने के दौरान केंद्रीय मंत्री ने बोली ये बड़ी बात।

हिमाचल प्रदश (Himachal Pradesh) के पांच दिवसीय दौरे पर पहुंचे केंद्रीय मंत्री नितिन गडकरी (Union Minister Nitin Gadkari) अपने कुल्लू जिले के दौरे के दूसरे दिन गुरुवार को मनाली (Manali) की वादियों को निहारने पहुंचे। इस दौरान केंद्रीय मंत्री ने कहा कि हिमाचल प्रदेश में सड़कों (Roads) के निर्माण के अलावा टनलों के निर्माण कार्य पर भी जोर दिया जा रहा है, ताकि हिमाचल के सभी इलाके सड़क सुविधा से आसानी से जुड़ सकें।

मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक, सामरिक दृष्टि से महत्त्वपूर्ण शिंकुला दर्रे पर बनने वाले टनल के निर्माण कार्य पर भी उन्होंने सहमति जताई और कहा कि इसकी डीपीआर के लिए बीआरओ को निर्देश दे दिए गए हैं। सामरिक दृष्टि से महत्त्वपूर्ण मनाली-लेह मार्ग पर तीन और दर्रों पर टनल बनाई जाएंगी, जिससे मनाली से लेह सड़क पर मात्र 12 घंटे में ही सफर पूरा हो सकेगा।

नितिन गडकरी ने कहा कि हिमाचल प्रदेश में इस समय 19 टनलों का निर्माण केंद्र सरकार के द्वारा किया जाना है, जिसमें से आठ टनलों का निर्माण कार्य प्रगति पर है और जल्द ही बाकी बची हुई 11 टनल के निर्माण कार्य को भी मंजूरी दे दी जाएगी। प्रदेश की सुंदरता का बखान करते हुए केंद्रीय मंत्री ने कहा कि हिमाचल प्रदेश स्विट्जरलैंड से भी अधिक खूबसूरत है और सड़कों व टनलों के निर्माण के बाद यहां पर पर्यटकों की आवाजाही भी काफी बढ़ेगी।

ऐसे में प्रदेश सरकार भी सड़कों के साथ लगती अपनी भूमि को पहले ही व्यवस्थित कर ले, ताकि यहां आने वाले पर्यटकों व लोगों को सुविधा मिल सके। गडकरी ने अटल टनल निहारने के बाद बीआरओ की सराहना की और कहा कि शिंकुला, बारालाचा, तंगलंगला, लाचुंगला में भी सुरंगों का निर्माण बीआरओ करेगा। जोजिला पास में टनल का निर्माण कर सेना की राह आसान हुई है। अब शिंकुला पास पर टनल निर्माण कर कारगिल सीमा की दूरी और घटाएंगे।

Next Story