Top
Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

विशेष सुमदाय के युवक ने 2 बैलों को 3 महीने तक रस्सी से बांधकर जंगल में छोड़ा, तड़प- तड़पकर मौत, इलाके में माहौल तनावपूर्ण

हिमाचल प्रदेश (Himachal Pradesh) के मंडी जिले (Mandi District) से इंसानियत को शर्मसार करने वाली खबर सामने आई है। मामला चनौता के भडियार गांव (Village) की है। यह मुस्लिम (Muslim) बहुल इलाका है और इस वजह से तनाव बढ़ गया है।

विशेष सुमदाय के युवक ने बैलों को 3 महिने तक रस्सी से बांधकर जंगल में छोड़ा, तड़प तड़पकर मौत, इलाके में माहौल तनावपूर्ण
X

प्रतीकात्मक तस्वीर

हिमाचल प्रदेश (Himachal Pradesh) के मंडी जिले (Mandi District) से इंसानियत को शर्मसार करने वाली खबर सामने आई है। मामला चुनौती के भडियार गांव (Village) की है। यह मुस्लिम (Muslim) बहुल इलाका है और इस वजह से तनाव बढ़ गया है। आपको बता दें कि यहां एक शख्स ने 3 महिना पहले 2 बैलों को गौशाला (Cowshed) के पास जंगल (Forest) में रस्सी से बांध दिया। रस्सी से बंधे बैलों की अब भूख और प्यास के चलते बैलों की मौत हो गई। इसका आरोप विशेष सुमदाय के शख्स पर लगा है। मामला सामने आने के बाद इलाके में माहौल तनावपूर्ण हो गया था। पुलिस ने इस संबंध में दो आरोपियों को हिरासत में लिया है।

मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक, मंडी जिले के धर्मपुर उपमंडल की चनौता पंचायत का यह मामला है। पंचायत के गांव गलु और भडियार के बीच की यह घटना है। आरोप है कि आरोपी ने जंगल में गौशाला के बाहर अपने दो बैलों को तीन माह पूर्व रस्सी से बांध कर भूखे प्यासे मरने के लिए छोड़ दिया। दरसअल, जब एक व्यक्ति लखदाता पीर के दर्शनों को जंगल से गुजर रहा था तो उसे दुर्गन्ध का एहसास हुआ। वह इस दृश्य को देखकर हैरान हो गया। दोनों बैल कंकाल बन चुके थे जबकि रस्सी अभी तक बंधी हुई थी।

वहीं गांव लौटने पर लोगों को उसने सारी बात बताई। फोन पर जानकारी पंचायत प्रधान सविता गुप्ता को जानकारी दी गई। बाद में लोगों में आक्रोश फैल गया और स्थिति तनावपूर्ण हो गई है, इसलिए पुलिस दल मौके पर भेजा गया था। मामले से जुड़ा वीडियो सोशल मीडिया पर भी सामने आया है। लोग इस घटना की जमकर निंदा कर रहे हैं। बता दें कि चनौता के भडियार गांव की यह घटना है, वह मुस्लिम बहुल इलाका है और इस वजह से तनाव बढ़ा है।

डीएसपी चंद्रपाल सिंह ने बताया कि मामले में केस दर्ज किया गया है। गुरुवार रात को दो आरोपियों को हिरासत में लिया गया है। पुलिस मामले में कार्रवाई कर रही है। उन्होंने बताया कि स्थानीय लोगों और पंचायत प्रधान को भी बुलाया गया है, ताकि पता लगाया जा सके कि आरोपियों ने ऐसा क्यों किया है।

Next Story