Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

गर्मी से राहत पाने के लिए सैलानियों ने किया पहाड़ों का रूख, फिलहाल बंद हैं होटल

हिमाचल प्रदेश (Himachal Pradesh) में कोरोना की दूसरी लहर के प्रकोप को कम होने के बाद सैलानियों (Tourist) ने गर्मी से राहत पाने के लिए पहाड़ों (Mountains) का रूख करना शुरू कर दिया है। आपको बता दें कि बीते दो महीनों से सैलानियों के लिए शिमला (Shimla) बंद था।

गर्मी से राहत पाने के लिए सैलानियों ने किया पहाड़ों का रूख, फिलहाल बंद हैं होटल
X

प्रतीकात्मक तस्वीर

हिमाचल प्रदेश (Himachal Pradesh) में कोरोना की दूसरी लहर के प्रकोप को कम होने के बाद सैलानियों (Tourist) ने गर्मी से राहत पाने के लिए पहाड़ों (Mountains) का रूख करना शुरू कर दिया है। आपको बता दें कि बीते दो महीनों से सैलानियों के लिए शिमला (Shimla) बंद था। इस वीकेंड से फिर सैलानियों ने शिमला में दस्तक देनी शुरू कर दी है। बीते शुक्रवार से सैलानियों के शिमला पहुंचने का क्रम शुरू हो गया था। सोमवार को शिमला के साथ-साथ आसपास के पर्यटन स्थलों (Tourist Place) पर भी सैलानियों ने घूमने का आनंद लिया।

वहीं इसके अलावा कर्फ्यू ढील के दौरान सैलानी ऐतिहासिक रिज मैदान पर घुड़सवारी का भी आनंद ले रहे हैं। गत अप्रैल माह में कोरोना के मामलों में हुई बढ़ोतरी के बाद शिमला में सैलानियों की आमद बेहद कम हो गई थी। जिसके बाद अधिकतर होटलों ने स्टाफ को छुट्टी भेज दिया था। रखरखाव और साफ सफाई के लिए एक-दो कर्मचारियों के साथ ही होटल चलाए जा रहे थे।

इन नियमों को करना होगा पालन

जानकारी के अनुसार, हिमाचल में आरटीपीसीआर कोरोना निगेटिव रिपोर्ट और ई-पास बनवाकर ही सैलानियों को प्रवेश की अनुमति है। प्रदेश में सार्वजनिक परिवहन पूरी तरह बंद है। ऐसे पर्यटक अपनी गाड़ी या टैक्सी में आ सकते हैं, लेकिन सिर्फ आधी सीटों पर ही बैठने की अनुमति हैं।

कोरोना मामलों में आई गिरावट

कोरोना के मामलों में आई गिरावट के बाद शिमला में सैलानियों की आमद फिर शुरू हो गई है। हालांकि अभी बेहद कम संख्या में सैलानी शिमला पहुंच रहे हैं, लेकिन आने वाले दिनों में सैलानियों की आमद बढ़ने की उम्मीद है। शिमला व्यापार मंडल के अध्यक्ष इंद्रजीत सिंह का कहना है कि पिछले तीन दिनों से शिमला में सैलानियों की आमद बढ़ी है।

बाजारों में घूमने लगे पर्यटक

कर्फ्यू में छूट के दौरान बाजार में बड़ी संख्या में सैलानियों को घूमते देखा जा सकता है। जाखू रोपवे के प्रबंधक मदन शर्मा का कहना है कि शुक्रवार के बाद से जाखू जाने के लिए रोजाना सैलानी रोप वे का इस्तेमाल कर रहे हैं। पंजाब और हरियाणा से अधिकतर सैलानी शिमला पहुंच रहे हैं।

अभी कम संख्या में ही पहुंच रहे हैं सैलानी

कार्ट रोड पर स्थित बहुमंजिला पार्किंग के प्रबंधक सतीश कुमार ने बताया कि शुक्रवार के बाद से यूपी, पंजाब, दिल्ली, हरियाणा के सैलानियों की गाड़ियां पहुंचने शुरू हो गई है, हालांकि अभी संख्या काफी कम है। कुफरी के गलू स्थित होटल स्टर्लिंग के मैनेजर ऑपरेशन जीआर शर्मा ने बताया कि फिलहाल होटल बंद है लेकिन इंक्वायरी आनी शुरू हो गई है। 14 जून से होटल को दोबारा खोलने की तैयारी है। इस सप्ताह सेकेंड सेटरडे और संडे की छुट्टी के चलते वीकेंड पर सैलानियों की आमद में और अधिक इजाफे की उम्मीद है।

Next Story