Top
Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

खलांडो के जंगल से तस्करों ने काटे देवदार के पेड़, चौकीदार निलंबित, पुलिस जांच में जुटी

हिमाचल प्रदेश (Himachal Pradesh) में खलांडो के जंगल में देवदार (Cedar) के पेड़ों का अवैध तरीके से काटने का कार्य चल रहा था। तस्कर देवदार के हरे पेड़ों को रात (Night) के समय काटते थे। सुचना मिलने के बाद मामले की छानबीन में डीएफ ओ श्रेठानन्द (DF O Shreethanand) पिछले 2 दिनों से खलांडो के जंगलों में डटे हुए हैं।

खलांडो के जंगल से तस्करों ने काटे देवदार के पेड़, चौकीदार निलंबित, पुलिस जांच में जुटी
X

प्रतीकात्मक तस्वीर

हिमाचल प्रदेश (Himachal Pradesh) में खलांडो के जंगल में देवदार (Cedar) के पेड़ों का अवैध तरीके से काटने का कार्य चल रहा था। तस्कर देवदार के हरे पेड़ों को रात (Night) के समय काटते थे। सुचना मिलने के बाद मामले की छानबीन में डीएफ ओ श्रेठानन्द (DF O Shreethanand) पिछले 2 दिनों से खलांडो के जंगलों में डटे हुए हैं। उन्होंने मामले की छानबीन तेज कर दी है। उन्होंने अब तक देवदार 90 स्लीपर व मौके पर एक काटा हुआ पेड़ बरामद कर दिया है। इस मामले की उन्होंने पुलिस चौकी रोहनाट में एफआईआर (FIR) दर्ज करा दी है।

वहीं लापरवाही बरतने को लेकर एक चौकीदार को निलंबित भी कर दिया गया है। जबकि वहां पर तैनात फारेस्ट गार्ड को लाइन हाजिर कर दिया गया है। गार्ड को वहाँ से रिलीव करके नाहन भेज दिया गया है। डीएफओ (DFO) ने बताया कि जंगल (Forest) में देवदार के कुल 5 पेड़ काटे गए है, सभी पेड़ 8 मार्च को काटे गए और 9 मार्च की रात को लकड़ी का लाना शुरू किया गया था।

डीएफ ओ श्रेठानन्द के अनुसार, 10 मार्च को इसकी जानकारी मिल गई थी। जानकारी मिलते ही उसी दिन उन्होंने डिप्टी रेंजर को मौके पर भेज दिया था। 2 छानवीन करने के बाद डिप्टी रेंजर (Deputy ranger) को इस मामले में कोई खास सफलता हासिल नही हुई। उन्होंने बताया कि 13 मार्च को वह खुद घटनास्थल के लिए रवाना हुए। उन्होंने बताया कि इस कार्य को अंजाम देने में किसी बड़ी मछलियों का हाथ होने की आशंका है। मामले में किसी बाहरी व्यक्ति का हाथ होने की भी पूरी संभावनाएं है।

डीएफ ओ ने बताया कि काटी गई लकड़ियों की तस्करी (Wood smuggling) की योजना थी,मगर उन्होंने तस्करों की सारी योजना पर पानी फेर दिया है। उन्होंने बताया कि तीन पेड़ो को किसने काटा है इस बारे में अभी तक पता नही चल पाया है मगर 2 पेड़ एक स्थानीय व्यक्ति ने काटे है। डीएफओ (DFO) ने बताया तस्कर अभी पकड़ से बाहर है। लकड़ी काटने वाले लोग जल्द ही पुलिस (Police) की गिरफ्त में होंगे। डीएफओ और पुलिस मिलकर आरोपियों की तलाश (Search) में जुट गई है।

Next Story