Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

कोरोना कर्फ्यू में बंद हुई दुकान तो आर्थिक तंगी से जूझ रहे युवक ने उठाया ये खौंफनाक कदम

हिमाचल प्रदेश (Himachal Pradesh) सहित पूरे देश में कोरोना महामारी (Corona Epidemic) से लोगों का रोजगार काफी प्रभावित हुआ है। ऐसे कामगारों के रोजगार चले जाने से उन्हें परेशानी का सामना करना पड़ रहा है।

कोरोना कर्फ्यू में बंद हुई दुकान तो आर्थिक तंगी से जूझ रहे युवक ने लगाया फंदा
X

प्रतीकात्मक तस्वीर

हिमाचल प्रदेश (Himachal Pradesh) सहित पूरे देश में कोरोना महामारी (Corona Epidemic) से लोगों का रोजगार काफी प्रभावित हुआ है। ऐसे कामगारों के रोजगार चले जाने से उन्हें परेशानी का सामना करना पड़ रहा है। प्रदेश के हमीरपुर जिले (Hamirpur District) में एक मैकेनिक ने कोरोना कर्फ्यू के में दूकान बंद हो जाने के चलते सुसाइड (Suicide) कर लिया। बताया जा रहा है कि इस युवक ने ऐसा कदम आर्थिक तंगी के चलते उठाया है।

जानकारी के अनुसार, हमीरपुर जिले के उपमंडल नादौन की गवालपत्थर पंचायत में 30 वर्षीय मोटर मेकेनिक ने फंदा लगाकर जान दे दी। बताया जा रहा है कि कोरोना कर्फ्यू के दौरान दुकान बंद होने से वह परेशान था। शुक्रवार को युवक घर के पास ही अमरूद के पेड़ से फंदा लगा लिया। पुलिस ने मामला दर्ज कर युवक का शव पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया है।

वहीं मृतक के पिता मदन लाल शर्मा ने बताया आशु शर्मा कांगू में मोटर मेकेनिक की दुकान करता था। कोरोना कर्फ्यू के दौरान दुकान बंद होने से कामकाज ठप हो गया था। इस कारण वह परेशान था और आर्थिक तंगी से जूझ रहा था। उन्होंने बताया कि शुक्रवार सुबह वह ड्यूटी लिए चले गए और आशु की माता घास लेने गई थी। करीब 11 बजे उसे पत्नी ने फोन पर सूचना दी कि आशु ने फंदा लगा लिया है। इसकी सूचना पुलिस चौकी धनेटा को दी गई।

मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक, थाना प्रभारी नीरज राणा ने बताया कि पुलिस ने शव को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया है। इस घटना की छानबीन की जा रही है। मृतक आशु शर्मा अपने पीछे पत्नी तथा दो वर्षीय बेटे को छोड़ गया है। घटना के बाद से पूरे इलाके में शौक की लहर दौड़ गई है।

Next Story