Top
Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

मां नयना के दर से होगा एशिया के सबसे ऊंचे भाखड़ा बांध का दीदार

मां नयना की नगरी में आने वाले श्रद्धालु अब एशिया के सबसे ऊंचे भाखड़ा डैम का दीदार भी कर पाएंगे। मंदिर न्यास प्रशासन पहाड़ी शैली (हिल स्टाइल) में एक ओपन व्यू प्वाइंट कम कैफेटेरिया बनाएगा जिसे बाकायदा टेंडर कॉल कर लीज पर आवंटित किया जाएगा।

मां नयना के दर से होगा एशिया के सबसे ऊंचे भाखड़ा बांध का दीदार
X
भाखड़ा डैम (फाइल फोटो)

मां नयना की नगरी में आने वाले श्रद्धालु अब एशिया के सबसे ऊंचे भाखड़ा डैम का दीदार भी कर पाएंगे। मंदिर न्यास प्रशासन पहाड़ी शैली (हिल स्टाइल) में एक ओपन व्यू प्वाइंट कम कैफेटेरिया बनाएगा जिसे बाकायदा टेंडर कॉल कर लीज पर आवंटित किया जाएगा। व्यू प्वाइंट कम कैफेटेरिया में श्रद्धालु न केवल चाय, कॉफी व आइस्क्रीम संग विभिन्न नामी कंपनियों के प्रोडक्ट्स का जायका लेंगे, बल्कि वहीं बैठे-बैठे भाखड़ा डैम को भी निहार सकेंगे। इस बाबत मंदिर न्यास प्रशासन ने प्रोजेक्ट की ड्राइंग तैयार करवा ली है और अब आर्किटेक्ट के माध्यम से एस्टीमेट तैयार करवाया जा रहा है।

मंदिर न्यास नयनादेवी के अध्यक्ष एवं एसडीएम सुभाष कुमार गौतम ने खबर की पुष्टि की है। उन्होंने बताया कि नयनादेवी मंदिर एरिया में सरायं-एक के समीप ही एक खाली जगह है जहां मंदिर न्यास ने प्वाइंट व्यू कम कैफेटेरिया निर्माण के लिए एक प्रोजेक्ट तैयार किया है। मौका मुआयना करने के बाद मंदिर न्यास ने योजना का खाका तैयार किया और आर्किटेक्ट के जरिए ड्राइंग तैयार करवाई है। इसके साथ ही प्रोजेक्ट निर्माण के लिए एस्टीमेट भी तैयार करवाया जा रहा है। जैसे ही तय औपचारिकताएं पूरी हो जाएंगी तो अगली प्रक्रिया शुरू की जाएगी। खास बात यह है कि मंदिर एरिया में चयनित स्थान ही एक ऐसा प्वाइंट है जिसे कैफेटेरिया के रूप में विकसित करने से न्यास की आय में इजाफा होगा तो वहीं श्रद्धालुओं को भाखड़ा डैम को निहारने की सहूलियत भी मिलेगी।

उन्होंने बताया कि व्यू प्वाइंट कम कैफेटेरिया को टेंडर कॉल कर लीज पर दिया जाएगा। जहां विभिन्न नामी कंपनियों के प्रोडक्ट्स उपलब्ध रहेंगे। इस प्रोजेक्ट को सिरे चढ़ाने के लिए बीबीएमबी के चेयरमैन ने भी आश्वस्त कर रखा है। यदि बीबीएमबी की स्पोर्ट भी मिलती है तो एक भव्य कैफेटेरिया बनेगा। मंदिर के समीप एक जगह चिहिंत की है जहां पहाड़ी शैली में एक ओपन व्यू प्वाइंट कम कैफटेरिया बनेगा। इसे टेंडर कॉल कर लीज पर दिया जाएगा। यहां से श्रद्धालुओं के लिए विभिन्न नामी कंपनियों के प्रोडक्ट्स उपलब्ध रहेंगे और भाखड़ा डैम व आसपास क्षेत्र की खूबसूरती को भी निहार सकेंगे। इस प्रोजेक्ट के लिए ड्राइंग तैयार कर ली गई है और आगामी प्रक्रिया चल रही है।

Next Story