Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

हिमाचल न्यूज: एनआईटी हमीरपुर के निदेशक पर गिरी गाज, तत्काल छुट्टी पर भेजे

नेशनल इंस्टीट्यूट ऑफ टेक्नोलॉजी (एनआईटी) हमीरपुर के निदेशक प्रो. विनोद यादव के खिलाफ मानव संसाधन विकास मंत्रालय ने सख्त कार्रवाई की है। एनआईटी हमीरपुर में एसोसिएट प्रोफेसर और असिस्टेंट प्रोफेसर के पदों पर नियमों के विपरीत हुई नई भर्तियों और उन्हें वित्तीय लाभ पहुंचाने के आरोपों में मंत्रालय ने प्रो. यादव की वित्तीय और प्रशासनिक शक्तियां छीनकर तत्काल छुट्टी पर भेज दिया है।

हिमाचल न्यूज: एनआईटी हमीरपुर के निदेशक पर गिरी गाज, तत्काल छुट्टी पर भेजे
X
एनआईटी हमीरपुर (फाइल फोटो)

नेशनल इंस्टीट्यूट ऑफ टेक्नोलॉजी (एनआईटी) हमीरपुर के निदेशक प्रो. विनोद यादव के खिलाफ मानव संसाधन विकास मंत्रालय ने सख्त कार्रवाई की है। एनआईटी हमीरपुर में एसोसिएट प्रोफेसर और असिस्टेंट प्रोफेसर के पदों पर नियमों के विपरीत हुई नई भर्तियों और उन्हें वित्तीय लाभ पहुंचाने के आरोपों में मंत्रालय ने प्रो. यादव की वित्तीय और प्रशासनिक शक्तियां छीनकर तत्काल छुट्टी पर भेज दिया है। मंगलवार को एनआईटी जालंधर के निदेशक प्रो. ललित अवस्थी को एनआईटी हमीरपुर के निदेशक का अतिरिक्त कार्यभार सौंप दिया है।

प्रो. अवस्थी 16 जुलाई को कार्यभार संभालेंगे। फिलहाल उन्होंने ऑनलाइन जिम्मेवारी संभाल ली है। प्रो. विनोद यादव ने मार्च 2018 को एनआईटी हमीरपुर में निदेशक के पद पर ज्वाइन किया था। उनके निदेशक पद पर रहते हुए संस्थान में नियमों के विपरीत अध्यापक स्टाफ के पदों पर समुदाय विशेष से भर्तियां करने और उन्हें वित्तीय लाभ पहुंचाने के आरोप लगे हैं। इधर, एनआईटी बोर्ड ऑफ गवर्नर के चेयनमैन प्रो. चंद्रशेखर ने कहा कि एनआईटी हमीरपुर के निदेशक प्रो. विनोद यादव की वित्तीय और प्रशासनिक शक्तियां वापस ले ली गई हैं। प्रो ललित अवस्थी को उनकी जगह निदेशक का कार्यभारी सौंपा गया है। मामले की जांच चल रही है, जांच पूरी होने के बाद आगामी कार्रवाई अमल में लाई जाएगी।

सांसद अनुराग ठाकुर और विधायक राजेंद्र राणा ने भी की थी शिकायत

केंद्रीय वित्त राज्य मंत्री अनुराग ठाकुर, कांग्रेस के विधायक राजेंद्र राणा, एनआईटी के छात्रों और पूर्व छात्र संगठन ने निदेशक प्रो. विनोद यादव की कार्यप्रणाली की शिकायत मानव संसाधन विकास मंत्रालय से की थी। शिकायत मिलने के बाद केंद्रीय मंत्री रमेश पोखरियाल निशंक ने मामले की जांच कर उचित कार्रवाई का आश्वासन दिया था।

केंद्रीय मंत्रालय की कमेटी दौरा कर तैयार करेगी रिपोर्ट

बोर्ड ऑफ गवर्नर्स ने सोमवार को प्रो. यादव से वित्तीय और प्रशासनिक कामकाज पर रोक लगाई थी। इसी के तहत मंगलवार को उन्हें जांच पूरी होने तक छुट्टी पर भेज दिया गया है। मंत्रालय के वरिष्ठ अधिकारी के मुताबिक, पूरे मामले में आरोपों की जांच की जाएगी। मंत्रालय की कमेटी हिमाचल जाकर कैंपस का दौरा करके रिपोर्ट तैयार करेग।

Next Story