Top
Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

हनी ट्रैप का शिकार हुआ रिटायर्ड फौजी, टर्की बैठी महिला ने चैटिंग कर ऐसे ठग लिए लाखों रुपये

हिमाचल प्रदेश (Himachal pradesh) के मतियाना में ठगों ने एक रिटायर्ड फौजी (Army Man) को ऑनलाइन ठगी (Fraud) का शिकार बनाया है। ठगों के गरोह ने रिटायर्ड फौजी से 6 लाख 45 हजार का चूना लगाया है। मतियाना निवासी (रिटायर्ड फौजी) हरीश चंदेल ने ठियोग पुलिस थाने में शिकायत दर्ज की है।

हनी ट्रैप का शिकार हुआ रिटायर्ड  फौजी, टर्की बैठी महिला ने चेटिंग कर ठग लिए लाखों रुपये
X

प्रतीकात्मक तस्वीर

हिमाचल प्रदेश (Himachal pradesh) के मतियाना में ठगों ने एक रिटायर्ड फौजी (Army Man) को ऑनलाइन ठगी (Fraud) का शिकार बनाया है। ठगों के गरोह ने रिटायर्ड फौजी से 6 लाख 45 हजार का चूना लगाया है। मतियाना निवासी (रिटायर्ड फौजी) हरीश चंदेल ने ठियोग पुलिस थाने में शिकायत दर्ज की है। फौजी ने पुलिस (Himachal police) को बताया कि सुजाना नामक महिला (Women) ने उनके साथ धोखधड़ी (Fraud) कर उनसे छह लाख 45 हजार की लूट की है। अब उस महिला से कोई संपर्क नहीं हो रहा है।

पुलिस के अनुसार महिला ने हरीश चंदेल को बताया कि उसके पति का देहांत हो गया है। उसका लगभग आठ मिलियन डॉलर टर्की की सिक्योरिटी कंपनी में फंसा हुआ है। इसे वह इंडिया में इन्वेस्ट करना चाहती है और उसे इंडिया से पार्टनर की आवश्यकता है। कई दिन तक ई-मेल और व्हाट्सऐप (Whatsapp) पर चैटिंग के बाद हरीश चंदेल कंपनी में हिस्सेदारी को राजी हो गए और अपनी आईडी के तौर पर आर्मी का सेवानिवृत्त कार्ड और अन्य दस्तावेज भेज दिए।

उसके बाद महिला ने बताया कि उसने अपना पैसा डिपलोमेट के माध्यम से भारत भेज दिया है, लेकिन बेनिफिशरी बनने के लिए आपको तीन लाख 45 हजार जमा करवाना होगा। पैसा जमा करने के कुछ दिन बाद हरीश को फिर से फोन आता है कि आपका पैसा कस्टम अधिकारी ने बाउंड कर दिया है। उसे छुड़ाने के लिए तीन लाख जमा करवाओ।

उसे जमा करवाने के बाद ठगों ने हरीश से दस लाख जमा करवाने की मांग की। इस पर उनका माथा ठनका और पुलिस में शिकायत दर्ज करवाई है। डीएसपी ठियोग कुलविंद्र सिंह ने बताया कि मामला दर्ज कर दिया गया है। पुलिस कार्रवाई कर रही है।

Next Story