Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

राष्ट्रपति का शिमला दौरा: बूंद-बूंद के लिए तरस रहे लोग, नगर निगम ने हजारों लीटर पानी ऐसे कर दिया बर्बाद

हिमाचल के शिमला में आज तमाम पेयजल परियोजनाओं से 42.05 एमएलडी पानी की आपूर्ति हुई। जहां शहरवासियों एक बार फिर से बूंद-बूद पानी के लिए तरस रहे हैं। वहीं राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद इन दिनों शिमला में हैं। इसलिए नगर निगम ने सड़कों की साफ-सफाई में हजारों लीटर पानी की बर्बाद कर दिया।

राष्ट्रपति शिमला दौरा: बूंद-बूंद के लिए तरस रहे लोग, नगर निगम ने हजारों लीटर पानी ऐसे कर दिया बर्बाद
X

शिमला

राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद (President Ram Nath Kovind) इन दिनों हिमाचल (Himachal) की राजधानी शिमला (Simla) के चार दिन के दौरे पर हैं। इसको लेकर हिमाचल सरकार (Himachal Government) समेत नगर निगम तमाम तैयारियों में जुटा है। शहर में सफाई व्यवस्था को दुरुस्त करने के लिए आधुनिक मशीनों के साथ सफाई कर्मियों को तैनात किया गया है। वहीं पानी की किल्लत (water crisis) के बीच एमसी ने शहर के मालरोड व रिज मैदान की सड़कों की साफ-सफाई करने में हजारों लीटर पानी बर्बाद (thousands of liters of water wasted) कर दिया है। इससे नगर निगम की कार्यप्रणाली पर प्रश्न उठ रहे हैं।

एक ओर शिमला में पेयजल योजनाओं में गाद की वजह से पर्याप्त पानी की आपूर्ति नहीं आ पा रही है। आम लोगों को तीसरे व चौथे दिन भी पर्याप्त पानी मुहैया नहीं हो रहा है। इन हालातों के बीच एमसी ने शहर की सड़कों पर हजारों लीटर पानी बर्बाद कर दिया। सीटीओ चौक पर सड़कों के साथ नालियों को भी पानी से साफ किया गया। मालरोड व रिज मैदान की सड़कें भी पानी से साफ की गईं। महात्मा गांधी की मुर्ति के निकट लगा फव्वारा भी पानी से धोया गया। स्मार्ट सिटी के तहत खरीदी गई मशीनों से सड़कों को साफ किया गया। इस कार्य के दौरान निगम के सफाई कर्मी भी तैनात किए गए। शुक्रवार की सुबह से दोपहर तक सड़कों को धोने का कार्य जारी रहा। जल प्रबंधन कंपनी की ओर से शहर में पानी की राशनिंग की गई है। जिसके तहत लोगों को तीसरे दिन जलापूर्ति हो रही है। कई अन्य इलाकों में जलापूर्ति की स्थिति और भी खराब है।

मामले पर मेयर ने कही ये बात

मामले पर मेयर सत्या कौंडल का कहना है कि दो दिन पूर्व शहर में गाद की दिक्कत की वजह से पेयजल संकट गहरा गया था। पर अब स्थिति सामान्य हो गई है। वहीं राष्ट्रपति के स्वागत के लिए शहर की साफ-सफाई व्यवस्था को बेहतर किया जा रहा है।

Next Story