Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

शादी समारोह में बरत रहे थे लापरवाही, कई आयोजकों के खिलाफ प्रशासन ने दर्ज की एफआईआर

हिमाचल प्रदेश (Himachal Pradesh) में कोरोना का कहर जारी है। बढ़ते मामलों को देखते हुए सरकार (Government) ने कोरोना कर्फ्यू के बाद से हिमाचल पुलिस सख्त हो गई है। शादी-समारोहों में नियमों की अवहेलना और बिना परमिशन के शादी समारोह (Wedding ceremony) का आयोजन करने वालों पर पुलिस ने शिकंजा कसना शुरू कर दिया है।

शादी समारोह में बरत रहे थे लापरवाही, कई आयोजकों पर एफआईआर दर्ज
X

प्रतीकात्मक तस्वीर

हिमाचल प्रदेश (Himachal Pradesh) में कोरोना का कहर जारी है। बढ़ते मामलों को देखते हुए सरकार (Government) ने कोरोना कर्फ्यू के बाद से हिमाचल पुलिस सख्त हो गई है। शादी-समारोहों में नियमों की अवहेलना और बिना परमिशन के शादी समारोह (Wedding ceremony) का आयोजन करने वालों पर पुलिस ने शिकंजा कसना शुरू कर दिया है। ऊना जिले में पुलिस ने बिना परमिशन के शादी समारोह कर रहे पांच आयोजकों के खिलाफ एफआईआर (FIR) दर्ज की है। कुल्लू जिले (Kullu District) में एक शादी समारोह में आयोजकों पर पांच हजार रुपए का जुर्माना ठोंका है।

हिमाचल के विभिन्न जिलों में सात से आठ मई तक प्रशासन की ओर से 456 शादियों की अनुमति दी गई थी। सबसे ज्यादा कांगड़ा जिला में 263 को दो दिन में शादियों की मंजूरी मिली है। शादी समारोह में सरकार की ओर से 20 से ज्यादा लोगों के शामिल होने की अनुमति नहीं दी गई है। ऐसे में पुलिस ने विभिन्न जिलों में शादियों का औचक निरीक्षण कर कार्रवाई भी की है। बिलासपुर में 18 शादियों की परमिशन थी, पुलिस ने 18 का निरीक्षण किया और पांच में एसओपी का पालन नहीं किया जिस पर सात हजार रुपए जुर्माना वसूला गया है। चंबा में 14 शादियों को अनुमति थी, यहां पर भी पुलिस ने सभी शादियों का मुआयना किया। दो के चालान कटे, जिनसे 10 हजार रुपए जुर्माना वसूला गया। हमीरपुर में 56 शादियों की परमिशन थी, पुलिस ने सभी का विजिट किया।

सभी में एसओपी का पालन हुआ। कांगड़ा जिला में 263 शादियों की मंजूरी थी। यहां पर पुलिस ने 207 शादियों का विजिट किया। एक के खिलाफ मुकदमा ठोका गया, जबकि एक का पांच हजार रुपए का चालान कटा। किन्नौर और सोलन में इस दौरान कोई भी शादी नहीं हुई। इसके अलावा लाहुल-स्पीति में एक शादी हुई। मंडी में सभी 19 शादियां एसओपी के दायरे में हुई। शिमला में भी 66 शादियां दो दिनों में हुई। यहां पर 53 का निरीक्षण हुआ। पुलिस को किसी में भी खामी नहीं मिली। सिरमौर में 15 शादियों को परमिशन दी गई थी। 13 का निरीक्षण किया गया। दो में एसओपी का पालन नहीं हुआ। यहां पर छह हजार रुपए जुर्माना वसूला गया। इसके अलावा ऊना जिला में चार शादियों का आयोजन हुआ। पुलिस ने तीन का औचक निरीक्षण किया।

प्रदेश में कुल 456 शादियों में से 383 का निरीक्षण पुलिस ने किया। एक पर एफआईआर, 10 के चालान काट 28 हजार रुपए जुर्माना वसूला गया। इसके अलावा बिना परमिशन के शादी समारोह करने वाले 35 जगहों पर भी पुलिस ने छापेमारी की। बिलासपुर में सबसे ज्यादा 24, कुल्लू में छह, बीबीएन में पांच जगह पर छापेमारी की। ऐसे में पांच के खिलाफ ऊना जिला में एफआईआर दर्ज की गई, जबकि कुल्लू में एक का चालान काटा गया। यहां पर पांच हजार रुपए का चालान किया गया।

Next Story