Top
Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

प्रशासन बना बेसुध: गांव तक सड़क न होने से ग्रामीण परेशान, पैदल चलकर मरीज पहुंचाया अस्पताल

हिमाचल प्रदेश (Himachal Pradesh) के कुल्लू का फलाण गांव आज भी सड़क से वंचित है। गांव तक सड़क (Road) न होने से लोगों को परेशानी (Trouble) का सामना करना पड़ा है। अकसर गांव वालों को उन दिनों अधिक परेशानी का सामना करना पड़ता हैं जब गांव में कोई युवक बीमार (Sick) पड़ जाता है।

गांव तक सड़क न होने से फलाण के ग्रामीण परेशान, 7 किमी पैदल चलकर मरीज को सड़क तक पहुंचाया
X

बुजु्र्ग को सड़क तक पैदल लेकर जाते ग्रामीण।

हिमाचल प्रदेश (Himachal Pradesh) के कुल्लू का फलाण गांव आज भी सड़क से वंचित है। गांव तक सड़क (Road) न होने से लोगों को परेशानी (Trouble) का सामना करना पड़ा है। अकसर गांव वालों को उन दिनों अधिक परेशानी का सामना करना पड़ता हैं जब गांव में कोई युवक बीमार (Sick) पड़ जाता है। बता दें की फलाण गांव से ऐसा ही एक मामला सामने आया है। यहां एक मरीज को ग्रामीणों ने सात किलोमीटर तक स्ट्रेचर पर उठाकर कुल्लू अस्पताल पहुंचाया।

बता दें कि शांगरू राम (95) को रविवार सुबह घर में ही गिरने के कारण पैर में चोट लगी। सड़क नहीं होने से उन्हें ग्रामीणों ने स्ट्रेचर पर उठाकर कालंग के साथ लगते स्थान रिढ़ी के पास पहुंचाया। यहां बुजुर्ग को वाहन के माध्यम से कुल्लू अस्पताल (Kullu Hospital) पहुंचाया गया। ग्रामीणाें को कहना है कि गांव तक सड़क न होने पर लोगों को परेशानी का सामना करना पड़ता है। नेताओं से बार-बार कहने पर भी समस्या का समाधान नहीं हो पाया है।

मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक, बुजुर्ग मरीज शांगरू राम के पुत्र रोशन लाल, ग्रामीण भगत राम, दिले राम, चुनी लाल, होतम राम ने कहा कि गांव तक सड़क न होने से लोगों को परेशान होना पड़ता है। बीमारी की हालत में मरीजों को सात किलोमीटर (Kilometer) तक उठाकर सड़क तक लाने के लिए ग्रामीण मजबूर हैं। उधर, लोक निर्माण विभाग के अधिशासी अभियंता एसके धीमान ने कहा कि ग्राम पंचायत फलाण के लिए प्रधानमंत्री ग्राम सड़क योजना (Pradhan Mantri Gram Sadak Yojana) के तहत सड़क सुविधा से जोड़ने की योजना है।

Next Story