Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

मशरूम उत्पादक का आया 20 करोड़ रुपये का बिजली बिल, परिवार ने उठाया ये बड़ा कदम

हिमाचल प्रदेश के सोलन जिले (Solan District) में बिजली विभाग की लापरवाही (Negligence) सामने आई है। यहां पर हिमाचल प्रदेश राज्य विद्युत बोर्ड ने सोलन के मशरूम उत्पादक को इतना भारी भरकम बिल थमा दिया कि उसके होश ही उड़ गए।

बिजली विभाग की लापरवाही: मशरूम उत्पादक को थमा दिया 20 करोड़ रुपए का बिल
X

प्रतीकात्मक तस्वीर

हिमाचल प्रदेश के सोलन जिले (Solan District) में बिजली विभाग की लापरवाही (Negligence) सामने आई है। यहां पर हिमाचल प्रदेश राज्य विद्युत बोर्ड ने सोलन के मशरूम उत्पादक को इतना भारी भरकम बिल थमा दिया कि उसके होश ही उड़ गए। सोलन में मशरूम उत्पादन का कार्य करने वाले विकास बनाल 20 करोड़ रुपए का बिल थमा दिया गया है, जबकि पहले उनका बिल मात्र 15 से 20 हजार रुपए ही आता था। गौर रहे कि विकास बनाल सोलन के समीप मशरूम यूनिट चलाते हैं।

वह अपना बिजली बिल भी समय पर अदा करते हैं, जिससे कोई पिछला बकाया भी नहीं है। दो दिन पहले जब विकास बनाल ने अपना बिल कम्प्यूटर से डाउनलोड किया तो उनके होश उड़ गए। बिल पर अदा करने की रकम 20 करोड़, 45 लाख 62 हजार 761 रुपए थी। कोविड काल ने पहले ही मशरूम उत्पादकों व किसानों की समस्याएं बढ़ाई हैं और कारोबार में घाटा हो रहा है। ऐसे में इस बिल से उनकी परेशानी और अधिक बढ़ गई है। विकास वर्ष 1990 से वह मशरूम फार्म चला रहे हैं।

उनका बिल करीब 15 से 50 हजार रुपए तक आता है। उद्योगों का बिल बोर्ड के कर्मचारियों द्वारा वेरिफाई किया जाता है, इसमें पीक आवर व नार्मल आवर के अलग-अलग यूनिट के हिसाब से ही बिल बनता है, लेकिन इस बार बिना वेरिफाई किए इतना भारी-भरकम बिल उन्हें दे दिया गया।

बिल जमा करने की तिथि 13 मई है और बीच में छुट्टियां, इसके कारण उनकी परेशानी और अधिक बढ़ गई। उनका कहना है कि वह इसकी शिकायत करेंगे और लीगल नोटिस भी भेंजेंगे। उधर, इस संदर्भ में बिजली बोर्ड सोलन के अधिशासी अभियंता ने कहा कि बिल में गलती हो सकती है, इसे दुरुस्त कर दिया जाएगा।

Next Story