Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

बच्ची को गोबर में फेंकने वाली मां निकली नाबालिग, जीजा ने की थी गंदी हरकत

हिमाचल प्रदेश (Himachal Pradesh) के सिरमौर जिले (Sirmaur District) में दो दिन पहले एक नवजात बच्ची गोबर के ढेर में मिली थी पुलिस (Himachal Police) ने अब इस मामले को सुलझा दिया है।

बच्ची को गोबर में फेंकने वाली मां निकली नाबालिग, जीजा ने किया था रेप
X

प्रतीकात्मक तस्वीर

हिमाचल प्रदेश (Himachal Pradesh) के सिरमौर जिले (Sirmaur District) में दो दिन पहले एक नवजात बच्ची गोबर के ढेर में मिली थी पुलिस (Himachal Police) ने अब इस मामले को सुलझा दिया है। पुलिस ने जांच में पाया कि बच्ची को जन्म देने वाली मां की पहचान करके पुलिस (Police) ने बुधवार को उसका मेडिकल करवाया है। जानकारी के अनुसार, नवजात शिशु को जन्म देने वाली नाबालिग लड़की स्कूल में पढ़ने वाली 12वीं की छात्रा है। उसने लोकलाज के भय से जन्म के तुरंत बाद नवजात शिशु को गोबर के ढेर में फेंक दिया था।

मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक, लड़की ने अपने बयान में बताया है कि उसके जीजा ने उसके साथ दुष्कर्म किया था, जिसके बाद वो गर्भवती हो गई। अविवाहित होने के चलते समाज और लोकलाज के डर से उसने अपने नवजात शिशु को पैदा होते ही को गोबर की ढेर में लावारिस छोड़ दिया था। जिसे पुलिस ने कब्जे में लेकर उपचार के लिए अस्पताल पहुंचाया था। नवजात की जान बचाने के बाद पुलिस के लिए उसकी मां की पहचान करना बड़ी चुनौती बनी हुई थी। सिरमौर पुलिस ने महज चौबीस घंटों में ही मामला सुलझा कर नवजात शिशु को जन्म देने वाली मां को तलाश निकालने में कामयाबी हासिल की है।

फिलहाल नवजात बच्ची नाहन मेडिकल कॉलेज में चिकित्सकों की देखरेख में स्वास्थ्य लाभ ले रही है और उसकी हालत स्थिर बताई जा रही है। मेडिकल सुपरिंटेंडेंट की अध्यक्षता में बिठाए गए मेडिकल बोर्ड में बच्ची के सेहत की जांच चल रही है, जिसके बाद नवजात को आगामी देखरेख और पालन पोषण के लिए सिरमौर ज़िला की बाल कल्याण समिति को सुपुर्द किया जा सकता है।

जीजा पर रेप का मामला दर्ज

आपको बता दें कि पांवटा साहिब के डीएसपी बीर बहादुर ने मामले की पुष्टि करते हुए बताया कि नवजात को जन्म के बाद लावारिस छोड़ने पर लड़की के खिलाफ आईपीसी की धारा 317 और आरोपी के खिलाफ आईपीसी की धारा 376 व पॉक्सो एक्ट के तहत मुकदमा दर्ज करके मामले की तफ्तीश की जा रही है।

Next Story