Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

Mausam Ki Jankari: बारिश से तापमान में भारी गिरावट, जानें अपने शहर का हाल

Mausam Ki Jankari: हिमाचल प्रदेश (himachal pradesh) में बारिश और बर्फबारी (Rain and Snow) के चलते मई महीने में नंवबर जैसा एहसास हो रहा है। बीते दो दिन से लगातार बारिश (Rain) के चलते तापमान में भारी गिरावट देखी गई है और ठंड का एहसास सूबे में हुआ है।

Mausam Ki Jankari: बारिश से तापमान में भारी गिरावट, जानें अपने शहर का हाल
X

मौसम की जानकारी

Mausam Ki Jankari: हिमाचल प्रदेश (himachal pradesh) में बारिश और बर्फबारी (Rain and Snow) के चलते मई महीने में नंवबर जैसा एहसास हो रहा है। बीते दो दिन से लगातार बारिश (Rain) के चलते तापमान में भारी गिरावट देखी गई है और ठंड का एहसास सूबे में हुआ है। बारिश की वजह से 18 वर्ष में मई में गुरुवार को सबसे कम तापमान दर्ज किया गया। मौसम विभाग (Weather Department) के आकड़ों के अनुसार, 2004 से लेकर अभी तक मई में सबसे कम तापमान 12 मई को दर्ज किया गया। तापमान में लगातार गिरावट और फिर गर्मी बढ़ने से मानव के स्वास्थ्य पर इसका विपरीत प्रभाव पड़ रहा है। साथ ही फसलों और फलों के लिए यह नुकसानदायक है।

तापमान में यह कमी प्रदेश के ऊंचे क्षेत्रों में हो रही बर्फबारी और निचले इलाकों में ओलावृष्टि व बारिश की वजह से आई है। मौसम विभाग ने 24 घटे के दौरान ऊंचाई वाले एक-दो स्थानों पर बर्फबारी और निचले इलाकों में बारिश के साथ ओलावृष्टि की संभावना जताई है। शुक्रवार के लिए भी प्रदेश में येलो अलर्ट जारी किया गया है।

आपको बता दें कि साल 2004 में राजधानी शिमला में पारा 26.1 डिग्री दर्ज हुआ था। वहीं, 13 मई को शिमला में अधिकतम पारा 15.7 डिग्री दर्ज हुआ है। मई में शिमला में आम तौर पर पारा 25 डिग्री के करीब रहता है। लेकिन अब शिमला में तापमान गिरने से मई में दिसंबर जैसा एहसास हो रहा है।

ओलावृष्टि व बारिश के बाद कई रास्ते बंद

प्रदेश में बुधवार रात से गुरुवार सुबह तक चोटियों पर हिमपात जारी रहा। वहीं, कुछ मैदानी इलाकों में बारिश के साथ ओलावृष्टि हुई। इस कारण कई स्थानों पर भूस्खलन भी हुआ है। शिमला, कुल्लू और मंडी जिला में 12 सड़कें बंद रही। मौसम विभाग ने 16 मई तक चोटियों पर हिमपात और कुछ निचले क्षेत्रों में बारिश की संभावना जताई है, प्रदेश में अप्रैल और मई में अधिक बारिश दर्ज की गई है।

Next Story