Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

Mausam Ki Jankari: हिमाचल में प्रचंड गर्मी, कल से मॉनसून के सक्रिय होने की संभावना

Mausam Ki Jankari: हिमाचल प्रदेश में काफी दिनों से बारिश ना होने के कारण प्रचंड गर्मी पड़ रही है। वहीं प्रदेश में एक जुलाई से मानूसन (Monsoon) की रफ्तार पकड़ने की उम्मीद है।

Mausam Ki Jankari: हिमाचल में प्रचंड गर्मी, कल से मॉनसून के सक्रिय होने की संभावना
X

मौसम की जानकारी

Mausam Ki Jankari: हिमाचल प्रदेश में काफी दिनों से बारिश ना होने के कारण प्रचंड गर्मी पड़ रही है। वहीं प्रदेश में एक जुलाई से मानूसन (Monsoon) की रफ्तार पकड़ने की उम्मीद है। मौसम विज्ञान केंद्र, शिमला ने बुधवार को भी पूरे प्रदेश में मौसम साफ रहने का पूर्वानुमान जताया है। एक जुलाई से प्रदेश में दोबारा से मानसून के सक्रिय होने के आसार हैं। एक जुलाई को हल्की बारिश की संभावना है।

मौसम विभाग के अनुसार, दो से पांच जुलाई तक प्रदेश के अधिकांश क्षेत्रों में बादल झमाझम बरसने के आसार जताए गए हैं। दो और तीन जुलाई (येलो अलर्ट) को मैदानी जिलों ऊना, बिलासपुर, हमीरपुर, कांगड़ा और मध्य पर्वतीय जिलों शिमला, सोलन, सिरमौर, मंडी, कुल्लू और चंबा के कई क्षेत्रों में भारी बारिश और अंधड़ का येलो अलर्ट जारी किया गया है। पांच जुलाई तक मौसम खराब रहने का अनुमान है।

हिमाचल प्रदेश में मानसून के कमजोर पड़ते ही गर्मी ने पसीने छुड़ाना शुरू कर दिए हैं। मंगलवार को ऊना में इस माह का दूसरा सबसे अधिक तापमान रिकॉर्ड हुआ। मंगलवार को ऊना का अधिकतम तापमान 42 डिग्री सेल्सियस रहा जबकि बीते 14 जून को 43 डिग्री था। मंगलवार को प्रदेश भर में धूप खिली।

वहीं मैदानी जिलों के साथ-साथ पहाड़ी क्षेत्रों में भी गर्मी की तपिश बढ़ गई है। सोमवार रात को पांवटा साहिब में इस सीजन का सबसे अधिक न्यूनतम तापमान 29.0 डिग्री सेल्सियस रिकॉर्ड हुआ। दिन के साथ रात को भी गर्मी बढ़ने से लोगों को खासी परेशानियों का सामना करना पड़ रहा है। उल्लेखनीय है कि प्रदेश में न्यूनतम तापमान में भी बढ़ोतरी दर्ज हुई है।

यूपी, दिल्ली और हरियाणा सहित पड़ोसी राज्यों में गर्मी में इजाफा होने से हिमाचल की ओर सैलानियों की बाढ़ आ गई है। शिमला, मनाली, सहित तमाम हिल स्टेशन सैलानियों से लबालब हैं। हालांकि, चिंता की बात यह है कि सैलानी कोरोना नियमों की पालना नहीं कर रहे हैं।

Next Story