Top
Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

Mausam Ki jankari: हिमाचल में जमकर बरसे मेघा, चंबा में बादल फटा, जानें अपने शहर का हाल

Mausam Ki jankari: हिमाचल प्रदेश (Himachal Pradesh) में मानसून (monsoon) के आने से पहले ही जमकर बारिश हुई है। बारिश (Rain) ने कई जिलों में कहर बरपाया है। यही नहीं चंबा (Chamba) जिले में बादल फटने की खबर हैं।

Mausam Ki jankari: हिमाचल में जमकर बरसे मेघा, चंबा में बादल फटा, जानें अपने शहर का हाल
X

मौसम की जानकारी

Mausam Ki jankari: हिमाचल प्रदेश (Himachal Pradesh) में मानसून (monsoon) के आने से पहले ही जमकर बारिश हुई है। बारिश (Rain) ने कई जिलों में कहर बरपाया है। यही नहीं चंबा (Chamba) जिले में बादल फटने की खबर हैं। आलम यह है कि इन इलाकों में लोगों को परेशानी से दो-चार होना पड़ रहा है। वहीं ऊना में ओले गिरे। कांगड़ा में बैजनाथ में बिजली गिरने से 250-300 भेड़ों की मौत की सूचना है। कुल्लू में बिजली महादेव मंदिर के पास जिया गांव के जंगल में बिजली गिरी और आग लग गई। हालांकि, बाद में बारिश से आग बुझ गई। आपको बता दें कि प्रदेश में शुक्रवार को भी मौसम (Weather) खराब बना हुआ है। बादल छाए हुए हैं।

गुरुवार को कांगड़ा में 103, धर्मशाला में 58, पालमपुर में 14, शाहपुर में 38, जोगिंद्रनगर में 33 मिलीमीटर बारिश हुई। गुरुवार शाम को चम्बा की लेच पंचायत में बादल फटा। इस वजह से दो नालों का जलस्तर बढ़ गया और मलबा लोगों के घरों में घुस गया। खेतों में मलबा और पानी घुसने से मक्की की फसल बर्बाद हो गई है। गांव के पेयजल के सोर्स मलबे की वजह से प्रभावित हुए हैं और सेब के बगीचों को भी नुकसान हुआ है। हालांकि, जानी नुकसान की कोई खबर नहीं है। ऊना में ओले और बारिश से राहत मिली है, क्योंकि यहां सबसे अधिक गर्मी पड़ रही थी। ऊना में लोग बिजली के अघोषित कटों से भी काफी परेशान हैं।

इससे पहले येलो अलर्ट के बीच गुरुवार को मंडी में बारिश और ओलावृष्टि हुई, जबकि जिला कांगड़ा में बारिश और आंधी चली। शिमला में दिन भर बादल छाए रहे। चंबा-तीसा वाया साच पास मार्ग बुधवार देर शाम वाहनों की आवाजाही के लिए लोक निर्माण विभाग ने बहाल कर दिया। इससे अब पांगी का इलाका देश-दुनिया से जुड़ गया है। जिला ऊना में बुधवार रात आठ वर्ष बाद सबसे अधिक 31 डिग्री न्यूनतम तापमान रिकॉर्ड हुआ। इससे पूर्व वर्ष 2013 में 11 जून को न्यूनतम तापमान 30।2 डिग्री था। बुधवार रात प्रदेश के न्यूनतम तापमान में सामान्य से चार डिग्री की बढ़ोतरी दर्ज हुई।

16 जुन तक बारिश का अनुमान

मौसम विज्ञान केंद्र शिमला ने शुक्रवार से 16 जून तक पूरे प्रदेश में बारिश का पूर्वानुमान जताया है। 12 और 13 जून को ऑरेंज अलर्ट के चलते प्रदेश के अधिकांश क्षेत्रों में भारी बारिश और अंधड़ चलेगी। शुक्रवार को भी प्रदेश में बारिश और अंधड़ का येलो अलर्ट है। शुक्रवार को प्रदेश में प्री-मॉनसून की फुहारें पड़ेंगी।

Next Story