Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

Mausam Ki Jankari: ओलावृष्टि से सेब की फसल तबाह, प्रदेश में दो दिन भारी बारिश का अलर्ट

Mausam Ki Jankari: हिमाचल प्रदेश (Himachal pradesh) में दो दिन भारी बारिश (heavy rain) का अलर्ट जारी किया गया है। वहीं रात्रि में हुई ओलावृष्टि (Hail) से सेब और टमाटर की फसल (apple and tomato harvest) भी तबाह हो गई है।

Mausam Ki Jankari: ओलावृष्टि से सेब की फसल तबाह, प्रदेश में दो दिन भारी बारिश का अलर्ट
X

मौसम की जानकारी

Mausam Ki Jankari: हिमाचल प्रदेश (Himachal pradesh) में दो दिन भारी बारिश (heavy rain) का अलर्ट जारी किया गया है। वहीं रात्रि में हुई ओलावृष्टि (Hail) से सेब और टमाटर की फसल (apple and tomato harvest) भी तबाह हो गई है। जानकारों की मानें तो प्रदेश के किसानों को ओलावृष्टि से भारी नुकसान हुआ है। इससे किसानों-बागवानों (farmers-gardeners) की चिंता बढ़ गई है। मौसम विज्ञान (IMD) केंद्र शिमला ने प्रदेश के मैदानी और मध्यम ऊंचाई वाले भागों में दो जून तक भारी बारिश का अलर्ट जारी किया गया है। ऊंचाई वाले क्षेत्रों में छह जून तक बारिश व हल्की बर्फबारी (Snowfall) का पूर्वानुमान है।

वहीं आज दोपहर को शिमला में झमाझम बारिश हुई। बता दें बीते दिन भी भारी बारिश और ओलावृष्टि ने कहर मचाया था। चंबा में बिजली का तार टूटने से ट्राउट मछली उत्पादन केंद्र में करंट लगने से 700 मछलियां मर गई थीं। पूलन पंचायत के आधा दर्जन गांवों में भारी बारिश से बाढ़ जैसे हालात हो गए, जिसमें मक्की, राजमाह और आलू की फसल समेत चार मवेशी बह गए थे।

मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक, शिमला के ऊपरी भागों में बीती रात को करीब 15 मिनट तक भारी ओलावृष्टि हुई। इससे सेब की फसल बरबाद हो गई है। सेब के फलों पर ओलो के निशान पड़ गए हैं। इससे बागवानों की साल भर की मेहनत पर पानी फिर गया है। उधर, कई भागों में भारी ओलावृष्टि से फ्रांसबीन और टमाटर को व्यापक नुकसान की सूचना है। शिमला ग्रामीण के तहत नालहट्टी, शकराह ,चलहोग व अन्य पंचायतों में ओलो का कहर देखने को मिला।

किसानों का कहना है कि थोड़ी देर की ओलावृष्टि में ही टमाटर की पोधे टूट गए। ऊपरी शिमला में ओलावृष्टि के कारण सेब और गुठलीदार फलों की फसल को भारी नुकसान पहुंचा है। हालांकि, प्रदेश के विभिन्न हिस्सों में हुई बारिश से लोगों को गर्मी से राहत मिली है।

Next Story