Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

कोरोना की वजह से बिना बारात अकेला गाड़ी लेकर मंडप तक पहुंचा दूल्हा, ऐसे अपने घर ले आया दुल्हन

हिमाचल प्रदेश (Himachal pradesh) में कोरोना कर्फ्यू (Corona curfew) के बीच शादियों का सीजन चल रहा है। ऐसे में हमीरपुर जिले से एक चौंकाने वाला मामला सामने आया है। यहां पर कोरोन की गाइडलाइन (Guideline) का पालन करते हुए एक दूल्हा बगैर किसी बैंड बाजे के दुल्हन ले आया।

गली-मोहल्लों में बच्चों ने निकाली बारात
X

शादी (प्रतीकात्मक तस्वीर)

हिमाचल प्रदेश (Himachal pradesh) में कोरोना कर्फ्यू (Corona curfew) के बीच शादियों का सीजन चल रहा है। ऐसे में हमीरपुर जिले से एक चौंकाने वाला मामला सामने आया है। यहां पर कोरोन की गाइडलाइन (Guideline) का पालन करते हुए एक दूल्हा बगैर किसी बैंड बाजे के दुल्हन ले आया। खुद गाड़ी चलाकर दूल्हा (Groom) मंडप पहुंचा और सात फेरे लिए और दुल्हन (Bride) को सात जन्मों के लिए अपनी जीवन संगिनी बना लिया।

मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक, कोविड के दौरान हिमाचल प्रदेश में शादी समारोह में केवल मात्र बीस लोगों की ही अनुमति है। कई जगह इसका जमकर उल्लंघन भी हुआ है। हमीरपुर जिले में युवक ने सबके लिए उदाहरण पेश किया है। लोग युवक की जमकर प्रशंसा कर रहे है। भोरंज उपमंडल के गांव धमरोल के युवक निर्मल शर्मा ने अपनी शादी के लिए अकेले ही दुल्हन (‌Bride) के पास पहुंचे। युवक निर्मल अपनी कार स्वयं चलाकर दुल्हन के घर पपलोह पहुंचा।

आपको बता दें कि शादी समारोह में कोविड माहमारी के चलते अकेले ही निर्मल ने शादी में जाने का फैसला लिया था, जिस कारण शादी के सारे रीति रिवाज को दरकिनार करते हुए अपने पिता और रिश्तेदारों के बिना यह शादी सभी के लिए यादगार बन गई है। निर्मल शर्मा अकेले ही कार में 15 किमी दूर पपलाह गांव में दूल्हे बनकर पहुंचे और अपनी दुल्हन को लेकर वापिस घर आ गए। इस सारी शादी में बडी बात यह रही कि पूरी शादी में दूल्हे दुल्हन के अलावा तीसरा शक्स केवल फेरे करवाने वाला पंडित ही रहा है। इस शादी के वीडियो और फोटो सोशल मीडिया पर खूब वायरल हो रहे हैं।

चारों तरफ है शादी की चर्चा

बता दें कि दूल्हे निर्मल के घर पर कोविड प्रोटोकाल के अनुसार शादी की तमाम रस्में अदा की गई, लेकिन बारात में बीस लोगों की इजाजत के बावजूद भी निर्मल ने सरकार के नियमों को कायम करते हुए अकेले ही शादी में हिस्सा लिया। दूल्हा निर्मल शर्मा ने बताया कि उन्होंने लोगों से आह्वान किया कि जिस तरह मैंने अपनी शादी में नियमों का पालन किया, वैसे ही लोग भी नियमों का पालन करें, ताकि माहमारी से बचाव हो सके। वहीं इस शादी की पूरे इलाके में चर्चा है।

Next Story