Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

घायल तेंदुए को ग्रामीणों ने पकड़ा, देखने उमड़ी लोगों की भीड़

हिमाचल के ऊना जिले (Una District) की बावड़ी में शनिवार सुबह पानी पीने के बाद आराम कर रहे एक तेंदुए को स्थानीय व्यक्ति ने बंद कर दिया। सूचना मिलने पर वन विभाग (Forest Department) की टीम मौके पर पहुंची और तेंदुए को रेस्क्यू (Rescue) किया।

घायल तेंदुए को ग्रामीणों ने पकड़ा, देखने उमड़ी लोगों की भीड़
X

प्रतीकात्मक तस्वीर

हिमाचल के ऊना जिले (Una District) की बावड़ी में शनिवार सुबह पानी पीने के बाद आराम कर रहे एक तेंदुए को स्थानीय व्यक्ति ने बंद कर दिया। सूचना मिलने पर वन विभाग (Forest Department) की टीम मौके पर पहुंची और तेंदुए को रेस्क्यू (Rescue) किया। तेंदुआ पकड़ने की सूचना पर मौके पर ग्रामीण काफी संख्या में पहुंच गए। जिन्हें काबू करने के लिए मौके पर पुलिस बुलानी पड़ी।

मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक, शनिवार सुबह करीब छह बजे बावड़ी में एक घायल तेंदुआ पानी पीने के लिए पहुंचा। यहां पानी पीने के बाद तेंदुआ आराम कर रहा था कि उसे एक व्यक्ति ने देख लिया। व्यक्ति ने तुरंत बावड़ी के लोहे के गेट को बंद कर दिया।

तेंदुए की दहाड़ने की आवाज सुनने पर पानी की सप्लाई छोड़ने जा रहे वाटर गार्ड पिंकू भी मौके पर पहुंच। पिंकू ने घटना की जानकारी पंचायत प्रधान अनीता राणा को दी। सूचना मिलने पर वन रेंज अधिकारी संदीप सेठी, डिप्टी रेंजर बाल कृष्ण शर्मा, वन रक्षक प्रवीण कुमार और अंकुश ठाकुर मौके पर पहुंच गए। उधर, तेंदुए को देखने के लिए काफी ग्रामीण मौके पर पहुंच गए। बार-बार आग्रह के बावजूद नहीं जाने पर विभाग को पुलिस बुलानी पड़ी।

पुलिस थाना बंगाणा के थाना प्रभारी प्रेम पाल एएसआई पवन कुमार टीम सहित मौके पर पहुंच गए और लोगों को तितर-बितर करवाया। पशुपालन विभाग की टीम ने तेंदुए को बेहोश करके उपचार के लिए जिला पशु चिकित्सालय ऊना भेज दिया। बताया जा रहा है कि तेंदुआ काफी ज्यादा घायल भी हो गया था। तेंदुए के पिछले दोनों पैर घायल अवस्था में थे। आशंका जताई जा रही है कि गोली या जानवरों को पकड़ने के लिए लोहे की तार से तेंदुआ घायल हुआ है।

Next Story