Top
Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

HRTC: अब राज्य के हर रूट्स पर दौड़ेंगी एचआरटीसी की बसें, निगम प्रबंधन ने शुरू की तैयारियां

हिमाचल प्रदेश (Himachal pradesh) में कोरोना महामारी के बाद एचआरटीसी (HRTC) की बसें अब हर रूट्स पर दौड़ेंगी। हिमाचल सरकार (Himachal Government) ने लोगों की परेशानी को देखते हुए यह फैसला लिया है। यहां तक कि स्कूल छात्रों (School Student) को भी स्कूल जाने में परेशानी (Problem) का सामना करना पड़ रहा है।

अब हर रूट्स पर दौड़ेंगी एचआरटीसी की बसें, निगम प्रबंधन ने शुरू की तैयारियां
X

प्रतीकात्मक तस्वीर

हिमाचल प्रदेश (Himachal pradesh) में कोरोना महामारी के बाद एचआरटीसी (HRTC) की बसें अब हर रूट्स पर दौड़ेंगी। हिमाचल सरकार (Himachal Government) ने लोगों की परेशानी को देखते हुए यह फैसला लिया है। यहां तक कि स्कूल छात्रों (School Student) को भी स्कूल जाने में परेशानी (Problem) का सामना करना पड़ रहा है। कोरोना के बीच में भी हिमाचल पथ परिवहन निगम (HRTC) ने एक बार बसें चलाने का फैसला लिया था लेकिन सवारियों (Passengers) की संख्या कम होने के कारण बसों को फिर से बंद करना पड़ा था।

मीडिया रिपोर्ट के मुताबिक, हिमाचल पथ परिवहन निगम ने भी बसें चलाने की तैयारियां शुरू कर दी हैं। निगम प्रबंधन के अनुसार शुरुआती दिनों में निगम प्रदेश में विभिन्न क्षेत्रों के रूटों को जरूरत के हिसाब से बहाल करेगा और जैसे-जैसे बसों की डिमांड बढ़ेगी, उसी के आधार रूट शुरू किए जाएंगे। इसकी जानकारी निगम प्रबंधन द्वारा निर्देश जारी कर दिए गए है।

हिमाचल प्रदेश में बसों का करीब 45 प्रतिशत ऑपरेशन चल रहा है, जिसमें निगम प्रबंधन प्रदेश के लम्बे रूट्स सहित ग्रामीण व शहरी क्षेत्रों के कई रूट बहाल किए हैं और संभव सभी रूटों पर बसें भेजी जा रही हैं, लेकिन स्कूल बंद होने के कारण भी स्कूलों पर जाने वाले कई रूट बंद थे, जिन्हें अब धीरे-धीरे खोला जाएगा। हिमाचल पथ परिवहन निगम प्रबंधन का दावा है स्कूल खुलने के बाद एक सप्ताह भी भीतर इस ऑपरेशन को 50 से 55 प्रतिशत तक बढ़़ाया जाएगा और जैसे जरूरत बढ़ती जाएगी, रूट बहाल किए जाएंगे और आगामी एक माह तक प्रदेश में पूरा ऑपरेशन शुरू किए जाएगा, जिससे जहां जनता सहित विधार्थियों को सुविधा मिलेगा।

आपको बता दें कि प्रदेश में कोरोना के बढ़ते मामलों को देखते हुए साल 2020 के मार्च महीने में प्रदेश में लॉकडाउन के कारण पूरा बस ऑपरेशन बंद हो गया था। वहीं, पहली जून, 2020 में फिर से कुछ शर्तों के साथ बस सेवा बहाल की गई थी, लेकिन वह बस सेवा भी लांगरूट के लिए चलाई गई थी। लेकिन अब सवारियां सड़कों पर भारी संख्या में आने लगी हैं। ऐसे में एचआरटीसी ने यह फैसला लिया है।

Next Story