Top
Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

चलती बस में ड्राइवर को आया हार्ट अटैक, मरने से पहले इस तरह बचाई 35 लोगों की जान

हिमाचल प्रदेश में एचआरटीसी (HRTC) की बस को चला रहे ड्राइवर (Driver) को अचानक हार्ट अटैक आ गया। ड्राइवर ने हार्ट अटैक (Cardiac Arrest) आने के बाद भी अपना संतुलन नहीं खोया और बस को सड़क के किनारे साइड लगाकर सवारियों को उतार दिया।

चलती बस में ड्राइवर को आया हाई अटैक, मरने से पहले इस तरह बचाई 35 लोगों की जान
X

प्रतीकात्मक तस्वीर

हिमाचल प्रदेश में एचआरटीसी (HRTC) की बस को चला रहे ड्राइवर (Driver) को अचानक हार्ट अटैक आ गया। ड्राइवर ने हार्ट अटैक (Cardiac Arrest) आने के बाद भी अपना संतुलन नहीं खोया और बस को सड़क के किनारे साइड लगाकर सवारियों को उतार दिया। आपको बता दें कि जिस समय यह वाकिया हुआ उस समय बस के अंदर 35 सवारियां मौजूद थीं। चालक ने अपनी सुझबूझ से सभी 35 सवारियों को सुरक्षित बचा लिया। लेकिन अस्पताल में एचआरटीसी बस ड्राइवर (Driver) ने दम तोड़ दिया।

मीडिया रिपोर्ट के मुताबिक, घटना सरकाघाट उपमंडल के तहत आने वाले सधोट गांव की है। सरकाघाट डिपो में बतौर चालक कार्यरत श्याम लाल रोजाना की तरह सुबह भी अपनी ड्यूटी पर पहुंचे और सरकाघाट से अवाहदेवी रूट पर जाने वाली बस को उसके गंतव्य तक पहुंचाने के लिए बस को चलाने लगे। सधोट गांव के पास पहुंचते ही श्याम लाल के सीने में तेज दर्द हुआ और बस उसके नियंत्रण से बाहर होने लगी। कुछ समय के लिए बस हिचकोले खाने लगी और बस में सवार यात्रियों की सांसें अटक गईं, लेकिन ऐसी स्थिति में भी श्याम लाल ने हिम्मत नहीं हारी और बस को नियंत्रित करके सभी सवारियों को उतरने को कहा। इसके बाद ड्राइवर श्याम लाल अपनी सीट पर बेहोश हो गए।

ड्राइवर के बेहोश होने पर मौके पर मौजूद सवारियों ने आरएम सरकाघाट को इसकी सूचना दी। आरएम सरकाघाट दूसरी बस के साथ मौके पर पहुंचे और सवारियों को दूसरी बस में भिजवाने के साथ ही श्याम लाल को उपचार के लिए सरकाघाट अस्पताल ले आए। यहां श्याम लाल की गंभीर स्थिति को देखते हुए उन्‍हें मेडिकल कॉलेज हमीरपुर रेफर किया गया, जहां उन्‍होंने दम तोड़ दिया। क्षेत्रीय प्रबंधक नरेंद्र शर्मा ने घटनाक्रम की पुष्टि की है। उन्होंने बताया कि दिवंग्त के परिवार को निगम की तरफ से हर संभव सहायता प्रदान की जाएगी।

Next Story