Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

ऊना में कोविड केयर सेंटर की हालत बदहाल, क्वारंटीन में ही खत्म हुई फौजियों की छुट्टी

हिमाचल के ऊना में कोविड केयर सेंटर की हालत बदहाल हो गई है। फौजियों की एक महिने की छुट्टीयां क्वारंटीन में खत्म हो गई हैं। फौजी यहां खड्ड में उपचार के लिए रखे गए हैं। सैनिकों ने केयर सेंटर की व्यवस्थाओं, प्रशासन, स्वास्थ्य विभाग और पुलिस कर्मचारियों के उनके प्रति रवैये पर सवाल उठाए हैं।

ऊना में कोविड केयर सेंटर की हालत बदहाल, क्वारंटीन में ही खत्म हुई फौजियों की छुट्टी
X
ऊना कोविड केयर सेंटर में अव्यवस्था को बताते फौजी।

हिमाचल के ऊना में कोविड केयर सेंटर की हालत बदहाल हो गई है। फौजियों की एक महिने की छुट्टीयां क्वारंटीन में खत्म हो गई हैं। फौजी यहां खड्ड में उपचार के लिए रखे गए हैं। सैनिकों ने केयर सेंटर की व्यवस्थाओं, प्रशासन, स्वास्थ्य विभाग और पुलिस कर्मचारियों के उनके प्रति रवैये पर सवाल उठाए हैं। वहीं कोविड केयर सेंटर में गंदगी के आलम को लेकर भी संस्थान के प्रभारियों को जमकर कोसा। सैनिकों का बनाया वीडियो सोशल मीडिया पर खूब वायरल भी हो रहा है, जिसमें उन्होंने कोविड केयर सेंटर की पूरी व्यवस्थाओं की पोल खोलकर रख दी है। मामला हिमाचल प्रदेश के ऊना जिले का है।

उन्होंने कहा कि करीब 9 माह के बाद अपने परिवारों से मिलने के लिए सेना से एक माह की छुट्टी लेकर आए थे, लेकिन इनमें से कईयों की पूरी छुट्टी पहले क्वारंटीन केंद्रों और फिर कोविड केयर सेंटर्स में ही बीत गई है। कोविड-19 पॉजिटिव पाए जाने के बाद उनके कई सैंपल फॉलोअप के तौर पर भेजे गए थे, जिसमें वो पॉजिटिव पाए गए हैं। अब ना ही उन्हें इसकी पूरी रिपोर्ट सौंपी जा रही है और ना ही स्वास्थ्य विभाग से डॉक्टर्स या अन्य कोई अधिकारी उनसे मिलने आते हैं।

फौजियों का यहां तक कहना है कि कोरोनावायरस के उपचार के लिए उन्हें कोई दवाई नहीं दी जा रही है। उन्हें मात्र बी कॉम्प्लेक्स के कैप्सूल और कुछ अन्य दवाएं दे कर काम चलाया जा रहा है। मात्र उनका टेंपरेचर जानने के अलावा कोई भी चिकित्सक या स्वास्थ्य कर्मी उनके पास नहीं आता है। इतना ही नहीं कोविड केयर सेंटर के नोडल अधिकारी और यहां तैनात पुलिस कर्मी भी उनके साथ सही व्यवहार नहीं करते हैं, जबकि कोविड केयर सेंटर में सफाई व्यव्यस्था बदहाल भी हो चुकी है।


Next Story