Top
Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

Unlock 4.0: हिमाचल में फिलहाल नहीं खुलेंगे धार्मिक स्थल, बाहरी राज्यों से आने वाले पर्यटकों को शर्तों के साथ छूट

हिमाचल प्रदेश में कोरोना संक्रमण की वजह से करीब 6 महीने से बंद पड़े धार्मिक स्थान फिलहाल अभी नहीं खुलेंगे। कोरोना वायरस के चलते अनलॉक-4 में हिमाचल सरकार द्वारा दिए गए नए दिशा निर्देशों में भी धार्मिक स्थलों को खोलने की अनुमति नहीं मिली है।

Unlock 4.0: हिमाचल में फिलहाल नहीं खुलेंगे धार्मिक स्थल, बाहरी राज्यों से आने वाले पर्यटकों को शर्तों के साथ छूट
X
प्रतीकात्मक तस्वीर

हिमाचल प्रदेश में कोरोना संक्रमण की वजह से करीब 6 महीने से बंद पड़े धार्मिक स्थान फिलहाल अभी नहीं खुलेंगे। कोरोना वायरस के चलते अनलॉक-4 में हिमाचल सरकार द्वारा दिए गए नए दिशा निर्देशों में भी धार्मिक स्थलों को खोलने की अनुमति नहीं मिली है। इसके चलते सिर्फ पुजारी ही धार्मिक स्थलों पर पूजा पाठ ही कर सकेंगे। धार्मिक स्थलों पर पहले की तरह ही मुख्य द्वार श्रद्धालुओं के लिए पूरी तरह से बंद रहेंगे।

डीसी शिमला अमित कश्यप ने बताया कि सरकार की ओर से जो दिशा निर्देश जारी किए गए हैं उनमें पर्यटन स्थलों के साथ-साथ धार्मिक स्थलों को लेकर कोई नए आदेश नहीं आए हैं। लेकिन अभी तक सिर्फ बाहरी राज्यों से आने वाले लोगों को ही नई शर्तों के साथ छूट दी गई है। उन्होंने बताया कि बाहरी राज्यों से आने वाले लोगों को प्रदेश की सीमाओं के भीतर प्रवेश करने से पहले पंजीकरण और 96 घंटे पहले की कोरोना नेगेटिव रिपोर्ट लाना अनिवार्य है। उसके बाद ही उन्हें सीमाओं के भीतर प्रदेश करने की अनुमति दी जाएगी।

डीसी शिमला अमित कश्यप ने बताया कि धार्मिक संस्थाओं को लेकर सरकार की ओर से कोई आदेश जारी नहीं किए गए हैं। फिलहाल इन्हें सरकार के आगामी आदेशों तक नहीं खोला जाएगा। हालांकि धार्मिक संस्थानों को खोलने के लिए सरकार की ओर से एसओपी तैयार की जा रही है। उसके बाद ही धार्मिक संस्थानों को खोलने का निर्णय लिया जाएगा। उन्होंने कहा कि कोरोना वायरस के चलते धार्मिक स्थलों पर पूरी तरह से सोशल डिस्टेंसिंग के नियमों का पालना किया जाएगा।

मालूम हो कि जयराम सरकार अनलॉक-4 में बॉर्डर पर नरमी बरतने के मूड में दिख रही है। डीसी-एसपी के साथ बैठक में सीएम जयराम ठाकुर ने इस बात के संकेत दिये। उन्होंने अधपकारियों को लोगों को आने-जाने में परेशानी न हो, इस बात का ध्यान रखने का निर्देश दिया। सीएम ने साफ कहा कि रजिस्ट्रेशन के बाद किसी को परेशाानी नहीं होनी चाहिए। प्रदेश सरकार ने रजिस्ट्रेशन की व्यवस्था इसलिए रखी है ताकि जो भी प्रदेश में आएं उसकी कांटेक्ट ट्रेसिंग आसानी से हो सके। इसी वजह से कोविड 19 के खिलाफ प्रभावी ढंग से सरकार लड़ पा रही है। मंदिरों को खोलने पर भी सरकार विचार कर रही है। एसओपी तैयार है और जल्द एसओपी जारी हो जाएगी।

Next Story