Top
Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

देश में ही नहीं विदेशों में भी फैला है मानव भारती विवि की फर्जी डिग्रियों का जाल

हिमाचल प्रदेश के मानव भारती विश्वविद्यालय की फर्जी डिग्रियों का जाल देश में ही नहीं विदेश में भी फैला हुआ है। मामले की जांच में जुटी एसआईटी को कनाडा और ऑस्ट्रेलिया से भी फर्जी डिग्री की शिकायतें फोन और ई-मेल आ रही हैं।

देश में ही नहीं विदेशों में भी फैला है मानव भारती विवि की फर्जी डिग्रियों का जाल
X
फाइल फोटो

हिमाचल प्रदेश के मानव भारती विश्वविद्यालय की फर्जी डिग्रियों का जाल देश में ही नहीं विदेश में भी फैला हुआ है। मामले की जांच में जुटी एसआईटी को कनाडा और ऑस्ट्रेलिया से भी फर्जी डिग्री की शिकायतें फोन और ई-मेल आ रही हैं। पुलिस टीम ने इनकी जांच शुरू कर रही है। संबंधित लोगों से भी संपर्क किया जा रहा है। वहीं फर्जीवाड़े में गिरफ्तार मानव भारती विवि के मालिक राजकुमार राणा ने जिला कोर्ट में सोमवार के लिए जमानत को अर्जी लगाई है, जिस पर सुनवाई होगी।

फर्जी डिग्री मामले की जांच के दौरान बड़े-बड़े खुलासे हो रहे हैं, जिसमें अभी तक विवि के मालिक सहित अन्य पांच लोगों को गिरफ्तार किया जा चुका है। राणा की गिरफ्तारी के बाद राजस्थान के माउंट आबू में चल रहे माधव विश्वविद्यालय से भी पुलिस ने बड़ी संख्या में दस्तावेज व कंप्यूटर बरामद किए हैं। इसमें विवि सहित राणा की संपत्ति को भी सील किया था। वहीं अब फर्जी डिग्री मामले के तार विदेश से जुड़ने का भी खुलासा हो रहा है। इसमें पुलिस को आए फोन कॉल सहित ई-मेल के आधार पर जांच की जा रही है। मामले की जांच कर रही पुलिस टीम के सदस्य डीएसपी रमेश शर्मा ने बताया कि फर्जी डिग्री को लेकर विदेश से भी फोन और ई-मेल से शिकायतें आ रही हैं, जिसकी जांच की जा रही है।


Next Story