Top
Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

हिमाचल में अब नहीं दौड़ेंगी कंडम एंबुलेंस, 38 एंबुलेंस को बदलने की मंजूरी

हिमाचल की 38 कंडम एंबुलेंस अब रिप्लेस होंगी। प्रदेश सरकार ने सोमवार को सचिवालय में आयोजित मंत्रिमंडल की बैठक में यह फैसला लिया। मंत्रिमंडल की आयोजित बैठक में राष्ट्रीय एंबुलेंस सेवा-108 के अंतर्गत उन 38 एंबुलेंस को बदलने की स्वीकृति प्रदान की गई।

हिमाचल में अब नहीं दौड़ेंगी कंडम एंबुलेंस, 38 एंबुलेंस को बदलने की मंजूरी
X
फाइल फोटो

हिमाचल की 38 कंडम एंबुलेंस अब रिप्लेस होंगी। प्रदेश सरकार ने सोमवार को सचिवालय में आयोजित मंत्रिमंडल की बैठक में यह फैसला लिया। मंत्रिमंडल की आयोजित बैठक में राष्ट्रीय एंबुलेंस सेवा-108 के अंतर्गत उन 38 एंबुलेंस को बदलने की स्वीकृति प्रदान की गई, जो अब पुरानी हो चुकी हैं। यह निर्णय प्रदेश में स्वास्थ्य प्रणाली में 108 एंबुलेंस की महत्त्वपूर्ण भूमिका को ध्यान में रखकर लिया गया है।

राज्य में कुल दो सौ 108 एंबुलेंस सेवाएं दे रही हैं, जिसमें दो बाइक एंबुलेंस गाडि़या हैं, वहीं 198, 108 एंबुलेंस गाडि़या हैं। अहम यह है कि जब 38 कंडम एंबुलेंस को बदल दिया जाएगा और उनकी जगह नई गाडि़यां आ जाएंगी, तो राज्य में एक भी कंडम एंबुलेंस नहीं बचेगी।

जानकारी के अनुसार बदली जा रही 38 एंबुलेंस गाडि़यों ने दो लाख 40 हजार किलोमीटर तक अपनी सेवाएं दे दी हैं। ऐसे में इन गाडि़यों को बदलने को लेकर लंबे समय से मांग की जा रही थी। बता दें कि कोविड काल के दौरान 108 एंबुलेंस गाडि़यों की सेवा सबसे ज्यादा रही है। हर जगह एक फोन कॉल पर मरीजों को अस्पताल तक पहुंचाने में 108 एंबुलेंस गाडि़यों की सबसे ज्यादा भागीदारी रही है।

राज्य में कई और भी 108 एंबुलेंस गाडि़यां हैं, जिसे दस साल से ज्यादा का समय हो जाएगा। ऐसे में सरकार को दूसरी कंडम होने वाली गाडि़यों को भी रिप्लेस करना होगा। लंबे समय से एंबुलेंस चालक भी विरोध कर रहे थे कि 108 एंबुलेंस की हालत खराब हो गई है। हर समय एक्सीडेंट का खतरा बना होता था। दूरदराज व जनजातीय क्षेत्रों में कंडम 108 एंबुलेंस कई बार खराब होने की वजह से बड़ा हादसा होने से बचा है।

सरकार द्वारा 108 एंबुलेंस को रिप्लेस करने के बाद अब हर जिले को नई एंबुलेंस दी जाएगी। विभागीय जानकारी के अनुसार सरकार नई 108 एंबुलेंस सेवाओं को कोविड के मरीजों को अस्पताल व कोविड सेंटर्स तक पहुंचाने में भी मदद के लिए भी ले सकती है। इसके साथ नई 108 एंबुलेंस गाडि़यों में ऑक्सीजन व दूसरी सुविधा भी सही ढंग से दी जाएगी।

Next Story