Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

देश की सबसे बड़ी भूमिगत जल विद्युत परियोजना ने उत्पादन में तोड़ा 17 साल का रिकार्ड

देश की सब से बड़ी भूमिगत हाइड्रो पवार स्टेशन नाथपा- झाकड़ी ने विद्युत उत्पादन में तोड़ा 17 सालो का रिकार्ड। कोरोना के इस दौर में भी पवार स्टेशन उतरी भारत के नौ राज्यों को निरंतर बिजली सप्लाई करता आ रहा है।

देश की सबसे बड़ी भूमिगत जल विद्युत परियोजना ने उत्पादन में तोड़ा 17 साल का रिकार्ड
X
फाइल फोटो

देश की सब से बड़ी भूमिगत हाइड्रो पवार स्टेशन नाथपा- झाकड़ी ने विद्युत उत्पादन में तोड़ा 17 सालो का रिकार्ड। कोरोना के इस दौर में भी पवार स्टेशन उतरी भारत के नौ राज्यों को निरंतर बिजली सप्लाई करता आ रहा है। केंद्र और हिमाचल सरकार के संयुक्त उपक्रम एसजेवीएन की इस परियोजना ने गर्मी के मौसम में रिकॉड बिजली तैयार कर उत्तरी भारत के राज्यों को गर्मी से राहत दिलाई है।

1500 मेगावॉट की देश की सबसे बड़ी भूमिगत जल विद्युत परियोजना नाथपा झाकड़ी हाइड्रो पावर स्टेशन और 412 मेगावाट के रामपुर हाइड्रो पावर स्टेशन से नौ राज्यों को निरंतर बिजली सप्लाई होती है। इस बार इन राज्यों में बिजली की कोई कमी नहीं होने दी है। हाइड्रो पावर स्टेशन ने अब तक के सारे रिकार्ड तोड़ दिये हैं।

हाइड्रो पावर स्टेशन द्वारा दिए गए सालाना लक्ष्य से काफी अधिक बिजली तैयार कर चुकी हैं। उल्लेखनीय है कि सेंट्रल इलेक्ट्रिसिटी अथॉरिटी द्वारा डिजाइन एनर्जी के हिसाब से परियोजनाओं को सालाना विद्युत उत्पादन लक्ष्य दिया जाता है। परियोजना अक्सर बरसात में सिल्ट के कारण बंद हो जाती है। जिस कारण कभी-कभी बिजली की थोड़ी परेशानी भी लोगों को उठानी पड़ती है।

Next Story