Top
Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

शिमला में उमड़े सैलानी, बड़े होटल पर्यटकों से पैक

वीकेंड पर प्रदेश के बड़े होटल सैलानियों से पैक हैं, मगर छोटे होटलों में सैलानियों की संख्या कम है। टूरिज्म इंडस्ट्री स्टेक होल्डर एसोसिएशन की मानें, तो इस वीकेंड पर गत वीकेंड के मुकाबले कम कारोबार रहा है।

शिमला में उमड़े सैलानी, बड़े होटल पर्यटकों से पैक
X

फाइल फोटो

वीकेंड पर प्रदेश के बड़े होटल सैलानियों से पैक हैं, मगर छोटे होटलों में सैलानियों की संख्या कम है। टूरिज्म इंडस्ट्री स्टेक होल्डर एसोसिएशन की मानें, तो इस वीकेंड पर गत वीकेंड के मुकाबले कम कारोबार रहा है। हालांकि राज्य के पर्यटक स्थलों पर सुबह से ही सैलानियों की चहल-पहल शुरू हो गई थी। राजधानी शिमला के रिज व मालरोड पर दिन भर सैलानियों को मौज मस्ती करते हुए देखा गया है।

शिमला के साथ-साथ ऊपरी शिमला के अन्य पर्यटक स्थलों पर भी सैलानियों की मौज मस्ती करते हुए देखा गया, लेकिन अगर होटल कारोबारियों की मानें, तो इस वीकेंड पर होटलों में बीते वीकेंड के मुकाबले आक्यूपैंसी दर कम रिकार्ड की गई है। एसोसिएशन के प्रदेशाध्यक्ष महेंद्र सेठ का कहना है कि होटलों में नाममात्र आक्यूपैंसी रही है। बडे़ होटलों में भले की आक्यूपैंसी दर अच्छी रहने का दावा किया जा रहा है, मगर छोटे होटल व्यावसाइयों के हाथ इस वीकेंड पर निराशा हाथ लगी है। अब कारोबारियों ने उम्मीद लगाई है कि त्योहारी सीजन शुरू हो गया है। बाहरी राज्यों से सैलानियों ने भी प्रदेश का रुख करना शुरू कर दिया है। ऐसे में आगामी दिनों के दौरान सैरगाहों में रौनक बढ़ जाएगी। वहीं होटलों में आक्यूपैंसी दर बढ़ने की संभावना है।

शक्तिपीठों के दर्शन को आते हैं सैलानी

नवरात्र के दौरान देवभूमि में हर साल बाहरी राज्यों से काफी संख्या में सैलानी शक्तिपीठों में दर्शन करने के लिए आते हैं। हालांकि कोविड के चलते इस बार कम संख्या में लोगों के आने की संभावना जताई जा रही है, मगर पर्यटन कारोबारियों को उम्मीद है कि नवरात्र में बाहरी राज्यों से काफी संख्या में सैलानी यहां पहुंच भी चुके हैं।

Next Story