Top
Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

चीन से बढ़ते तनाव के बीच अब हिमाचल सीमा पर राफेल ने भरी उड़ान

गलवाल घाटी में दोनों देशों के सैनिकों के बीच पेगांग झील क्षेत्र में हिंसक झड़प हुई थी। चीन आर्मी के साथ हुए भारतीय सेना के टकराव के बाद से वास्तविक नियंत्रण रेखा पर बढ़ते तनाव के बीच भारतीय वायुसेना ने लद्दाख से सटे हिमाचल के आसमान को अपना ट्रेनिंग ग्राउंड बना लिया है।

चीन से बढ़ते तनाव के बीच अब हिमाचल सीमा पर राफेल ने भरी उड़ान
X
फाइल फोटो

गलवाल घाटी में दोनों देशों के सैनिकों के बीच पेगांग झील क्षेत्र में हिंसक झड़प हुई थी। चीन आर्मी के साथ हुए भारतीय सेना के टकराव के बाद से वास्तविक नियंत्रण रेखा पर बढ़ते तनाव के बीच भारतीय वायुसेना ने लद्दाख से सटे हिमाचल के आसमान को अपना ट्रेनिंग ग्राउंड बना लिया है। पिछले एक महीने से हिमाचल के आसमान में अपाचे, चिनूक और मिग जैसे युद्धक व मालवाहक हवाई जहाजों के बाद अब राफेल ने भी उड़ान भरना शुरू कर दिया है। पिछले कुछ दिन से लद्दाख से लगते लाहौल-स्पीति के आसमान में कई बार राफेल मंडराते देखे गए हैं। बताया जा रहा है कि चूंकि इस इलाके के हालात काफी हद तक लेह लद्दाख से मिलते हैं।

साथ ही यह इलाका जून में चीनी सेना के हेलीकॉप्टरों की घुसपैठ के बाद से संवेदनशील हो गया है, ऐसे में वायुसेना ने इस पूरे क्षेत्र की वायु सीमा पर अपनी गश्त बढ़ा दी है। चूंकि इस इलाके के दूसरी तरफ चीन ने अपनी जमीन पर अंतरराष्टरीय सीमा के नजदीक तक सड़कों का जाल बिछा लिया है। इसलिए भारत अब इस पूरे क्षेत्र में हिमाचल के किन्नौर और लाहौल-स्पीति से लेकर लेह-लद्दाख तक निगरानी बढ़ाने में जुटा है। सूत्रों का कहना है कि दो अपाचे हेलीकाप्टर हिमाचल के एक सैन्य ठिकाने पर तैनात किए हैं, ताकि आपात स्थिति में दुश्मन को करारा जवाब दिया जा सके। फिलहाल वायुसेना मामले में कुछ भी आधिकारिक रूप से बोलने को तैयार नहीं है।


Next Story