Top
Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

हिमाचल प्रदेश के लाहौल स्पीति से बिजली निकालेगा पावरग्रिड, सरकार ने सर्वे करवाया शुरू

हिमाचल प्रदेश के लाहौल स्पीति से बिजली निकालने का रास्ता भी अब जल्दी मिलने जा रहा है। यहां पर ट्रांसमिशन के लिए पावर ग्रिड मदद करेगा, जिसकी सरकार से बातचीत पूरी हो चुकी है।

हिमाचल प्रदेश के लाहौल स्पीति से बिजली निकालेगा पावरग्रिड, सरकार ने सर्वे करवाया शुरू
X

प्रतीकात्मक तस्वीर

हिमाचल प्रदेश के लाहौल स्पीति से बिजली निकालने का रास्ता भी अब जल्दी मिलने जा रहा है। यहां पर ट्रांसमिशन के लिए पावर ग्रिड मदद करेगा, जिसकी सरकार से बातचीत पूरी हो चुकी है। इतना ही नहीं, यहां पर सर्वेक्षण का काम भी शुरू हो चुका है। लाहौल में निजी कंपनियां इसलिए प्रोजेक्ट नहीं लेतीं, क्योंकि वहां से ट्रांसमिशन लाइन नहीं है। स्पीति में भी ऐसी ही हालात है। मोजरबेयर जैसी कंपनी ने वहां पर अपने प्रोजेक्ट छोड़ दिए, वहीं कुछ दूसरी कंपनियों ने भी अपने प्रोजेक्ट्स को आगे नहीं बढ़ाया। ऐसा केवल ट्रांसमिशन को लेकर किया जा रहा है।

अब यह चिंता आने वाले दिनों में समाप्त हो जाएगी। एसजेवीएनएल भी यहां पर अब हाथ आजमाएगा, क्योंकि पावर ग्रिड जल्दी ही यहां पर ट्रांसमिशन का रास्ता निकालेगा। बताया जा रहा है कि यहां पर बिजली प्रोजेक्ट्स का काफी स्कोप है और अभी तक यहां कोई प्रोजेक्ट नहीं लग पाया है। बता दें कि पावर ग्रिड से दो जगहों के लिए बातचीत चल रही है। एक तरफ स्पीति वैली के प्रोजेक्ट है, तो दूसरी ओर लाहौल के प्रोजेक्ट पर। स्पीति में भी पावर ग्रिड ने सर्वेक्षण की बात मानी है, जिस पर वर्ल्ड बैंक से भी चर्चा चल रही है। वही, लाहौल में एक सोलर पार्क का निर्माण भी किया जाना है।

एक हजार मेगावाट क्षमता के इस सोलर पार्क के लिए भी यहां से बिजली की ट्रांसमिशन की जानी है। बता दें कि केंद्र सरकार ने भी सोलर पावर पार्क स्थापित करने में एसजेवीएनएल को मदद के लिए कहा है। हो सकता है कि आने वाले समय में ट्रांसमिशन लाइन पर जैसे ही काम शुरू होगा, यहां पर सोलर पार्क की रूपरेखा भी तैयार हो जाएगी। इस पर एसजेवीएन भी काम करने के लिए तैयार है।

Next Story