Top
Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

NFHS की रिपोर्ट में खुलासा: हिमाचल में 94 प्रतिशत महिलाएं लेती हैं घरों से जुड़े फैसले

नेशनल फैमिली हेल्थ सर्वे की रिपोर्ट में खुलासा हुआ है कि हिमाचल प्रदेश में 94 प्रतिशत महिलाएं घरों में खरीद-फरोख्त से जुड़े फैसले खुद ही लेती हैं। वर्ष 2015-16 के मुकाबले इन आंकड़ों में तीन फीसदी की बढ़ोतरी दर्ज हुई है।

NFHS की रिपोर्ट में खुलासा: हिमाचल में 94 प्रतिशत महिलाएं लेती हैं घरों से जुड़े फैसले
X

फाइल फोेटो

नेशनल फैमिली हेल्थ सर्वे की रिपोर्ट में खुलासा हुआ है कि हिमाचल प्रदेश में 94 प्रतिशत महिलाएं घरों में खरीद-फरोख्त से जुड़े फैसले खुद ही लेती हैं। वर्ष 2015-16 के मुकाबले इन आंकड़ों में तीन फीसदी की बढ़ोतरी दर्ज हुई है। परिजनों-रिश्तेदारों के पास जाने और अपनी स्वास्थ्य देखभाल संबंधी फैसले लेने को भी महिलाएं स्वतंत्र हैं।

केंद्र सरकार के स्वास्थ्य मंत्रालय से बीते दिनों 15 से 49 वर्ष की महिलाओं पर किए गए सर्वे को लेकर जारी हुई रिपोर्ट के अनुसार शहरी क्षेत्रों में 93.8 फीसदी और ग्रामीण क्षेत्रों में 93.9 फीसदी शादीशुदा महिलाएं घर में खरीदे जाने वाले सामान की खरीद के लिए स्वयं फैसले लेती हैं। परिजनों या रिश्तेदारों के घरों में जाने को लेकर भी महिलाएं अपने फैसले में किसी की दखलंदाजी पसंद नहीं करती हैं।

वर्ष 2015-16 के दौरान यह आंकड़ा 90.8 फीसदी था। 83 फीसदी महिलाओं के पास अपने बैंक खाते हैं और इन खातों में वह स्वयं ट्रांजेक्शन करती हैं। पांच साल पहले 69 फीसदी महिलाएं अपने बैंक खातों में खुद ट्रांजेक्शन करती थीं। इसके अलावा 79 फीसदी महिलाओं के पास मोबाइल फोन भी हैं। वर्ष 2015-16 में यह आंकड़ा 74 फीसदी था। सर्वे के मुताबिक 36.2 फीसदी महिलाओं को एचआईवी, एड्स के बारे में जानकारी है। पांच साल पहले 30.9 फीसदी महिलाओं को ही इस बारे में जानकारी थी।

Next Story