Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

कैसी होगी अटल टनल रोहतांग की सुरक्षा जानने के लिए यहां पढ़ें

अटल टनल के उद्घाटन के बाद से ही प्रदेश में टनल की सुरक्षा को लेकर कई दावे किये जा रहे थे लेकिन अब टनल की सुरक्षा का प्लान हिमाचल पुलिस ने तैयार कर लिया है।

कैसी होगी अटल टनल रोहतांग की सुरक्षा जानने के लिए यहां पढ़ें
X
अटल टनल रोहतांग

अटल टनल के उद्घाटन के बाद से ही प्रदेश में टनल की सुरक्षा को लेकर कई दावे किये जा रहे थे, लेकिन अब टनल की सुरक्षा का प्लान हिमाचल पुलिस ने तैयार कर लिया है। डीजीपी संजय कुंडू के निर्देश पर गठित बोर्ड ऑफ ऑफिसर्स की सिफारिशों के आधार पर पुलिस मुख्यालय ने सरकार को सुरक्षा प्लान पिछले हफ्ते भेज दिया है। प्रस्ताव पर वीरवार को मुख्य सचिव की अध्यक्षता में चर्चा होनी है।

माना जा रहा है कि मुख्यालय के प्रस्ताव को मंजूरी मिल सकती है। प्लान के अनुसार एक एडिशनल एसपी स्तर के अधिकारी को टनल की सुरक्षा के लिए ओवरआल इंचार्ज बनाया जाएगा। वह एसपी लाहौल-स्पीति और एसपी कुल्लू से संबद्ध रहेगा। एडिशनल एसपी पर ही इंटर डिपार्टमेंटल और बीआरओ समेत अन्य एजेंसियों से तालमेल स्थापित कर सुरक्षा को लेकर उपयुक्त कदम उठाने के लिए तालमेल बैठाने का जिम्मा होगा।

उसके अधीन दो थाने और दो मल्टीपर्पज पुलिस चेक पोस्ट होंगे, जिनमें पौने दो सौ से ज्यादा पुलिस कर्मी तैनात होंगे। इन कर्मियों के जिम्मे टनल के अंदर से लेकर टनल के दोनाें छोर के आसपास के इलाकों तक ट्रैफिक से लेकर कानून व्यवस्था और एंटी टेररिस्ट गतिविधियाें से निपटने की जिम्मेदारी होगी। डीजीपी ने कहा कि प्रस्ताव को मंजूरी मिलने के बाद तुरंत व्यवस्था लागू की जाएगी।

प्रस्तावित प्लान के अनुसार 9.02 किलोमीटर लंबी टनल की सुरक्षा के लिए दो पुलिस थाने बनाए जाएं गे। एक दक्षिण पोर्टल के नजदीक धुंधी में स्थापित होगा। इसके अधीन सोलन से लेकर टनल का दक्षिण पोर्टल और उत्तर पोर्टल तक पूरी टनल की जिम्मेदारी होगी।लाहौल-स्पीति के सिस्सू में एक और थाना बनेगा। दोनों थानों में करीब चालीस-चालीस की नफरी तैनात होगी। इन्हें पेट्रोलिंग के लिए पीसीआर वैन के अलावा पहाड़ पर चलने वाले तीन-तीन वाहन और बाइक मुहैया कराई जाएंगी।

सोलंग और तेलिंग गांव में एक-एक मल्टीपर्पज बैरियर कम पुलिस चेक पोस्ट गठित होंगे। इनमें भी करीब चालीस-चालीस पुलिस कर्मियों की तैनाती होगी। इन बैरियरों पर सीसीटीवी के अलावा निर्धारित ऊंचाई से ज्यादा ऊंचे वाहनों को प्रवेश न होने देने, आधुनिक उपकरणों से वाहनों की फुलप्रूफ चेकिंग, वाहनों को रोकने के लिए विभिन्न तरह के बोलार्ड सिस्टम से लैस किया जाएगा। दिन में दो बार ट्रैफिक रोके जाने के दौरान रोजाना पुलिस कर्मी खुद टनल के चप्पे-चप्पे को छानकर सुरक्षित करेंगे।


Next Story