Top
Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

Himachal News: सात महीने बाद खुलेगा गोपालपुर चिड़ियाघर, कोरोना नियमों का करना होगा पालन

हिमाचल के गोपालपुर में सात महीने के लंबे इंतजार के उपरांत सोमवार को चिडि़याघर पर्यटकों के लिए खोल दिया गया है। अब लोग चिडि़याघर में जाकर 23 प्रजातियों के जानवरों को देख सकते हैं।

Himachal News: सात महीने बाद खुलेगा गोपालपुर चिड़ियाघर, कोरोना नियमों का करना होगा पालन
X

फाइल फोटो

हिमाचल के गोपालपुर में सात महीने के लंबे इंतजार के उपरांत सोमवार को चिडि़याघर पर्यटकों के लिए खोल दिया गया है। अब लोग चिडि़याघर में जाकर 23 प्रजातियों के जानवरों को देख सकते हैं। हालांकि लोगों को कोरोना नियमों का पालन करना होगा। इसकी सारी व्यवस्थाएं कर ली गई हैं। कोरोना नियमों का पालन करते हुए ही लोगों को चिडि़याघर में प्रवेश की अनुमति मिलेगी।

बता दें कि अब शेर दंपत्ति भी गोपालपुर चिडि़याघर में मौजूद है। शेर दंपत्ति को गुजरात से लाने के कुछ दिनों बाद ही लॉकडाउन लग गया था, जिस कारण शेर दंपत्ति का दीदार लोग नहीं कर पाए। इससे पहले कई वर्षों से शेर गोपालपुर चिडि़याघर में नहीं था। इसके बदले गोपालपुर से भालू का जोड़ा गुजरात भेजा गया तथा गुजरात से शेर दंपत्ति को यहां लाया गया है। इसके साथ ही लैपर्ड, काला भालू सहित अन्य प्रजातियों के जंगली जानवर भी यहां मौजूद हैं। हालांकि अभी तक रेपटाइल हाउस का बनना शेष है। कोरोना काल के चलते प्रक्रिया आगे नहीं बढ़ पाई थी।

इसके लिए प्रोपोजल बनाकर सेंटर जू अथॉरिटी को भेजी गया है। अप्रूवल मिलने के उपरांत रेपटाइल हाउस का निर्माण आधुनिक तरीके से किया जाएगा। जाहिर है कि गोपालपुर जू में पर्यटकों की खूब आवाजाही रहती थी। चिडि़याघर में विभिन्न प्रकार के जंगली जानवरों को देखने के लिए लोग यहां पहुंचते थे। गोपालपुर जू को आकर्षण का केंद्र बनाने के लिए वन्य जीव विभाग ने भी कई योजनाएं तैयार की थीं।

लेकिन लॉकडाउन के चलते चिडि़याघर को पर्यटकों के लिए बंद कर दिया गया। करीब सात महीने के बाद अब इसे खोलने का फैसला लिया गया है और सोमवार से चिडि़याघर खोला जा रहा है। चिडि़याघर में तैनात स्टाफ को कोरोना नियमों के संदर्भ में प्रशिक्षण प्रदान किया गया है। कोरोना नियमों की पालना करते हुए ही लोगों को जू में आने की अनुमति रहेगी।

Next Story