Top
Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

करंट लगने से पिता-पुत्र की मौत, गांव में पसरा सन्नाटा

हिमाचल के करसोग से लगभग 35 किलोमीटर दूर ग्राम पंचायत झूंगी के गांव बलाऊट में सोमवार को उस समय आसमान भी रो पड़ा, जब पिता और पुत्र की चिता एक साथ पंचतत्व में विलीन हुई। सैकड़ों गांववासियों की नम आंखें कुदरत से यह सवाल कर रही थी कि यह कैसा कहर है जिसमें पिता और पुत्र को एक साथ करंट का शिकार होना पड़ा है।

करंट लगने से पिता-पुत्र की मौत, गांव में पसरा सन्नाटा
X
गांव बलाऊट में पिता-पुत्र की की जलती चिताएं।

हिमाचल के करसोग से लगभग 35 किलोमीटर दूर ग्राम पंचायत झूंगी के गांव बलाऊट में सोमवार को उस समय आसमान भी रो पड़ा, जब पिता और पुत्र की चिता एक साथ पंचतत्व में विलीन हुई। सैकड़ों गांववासियों की नम आंखें कुदरत से यह सवाल कर रही थी कि यह कैसा कहर है जिसमें पिता और पुत्र को एक साथ करंट का शिकार होना पड़ा है। करंट का शिकार होने वाले पिता-पुत्र में नौता राम की उम्र लगभग 40 वर्ष तो पुत्र घनश्याम की आयु अभी मात्र 17 वर्ष थी।

बता दें कि मौत का क्रूर पंजा पानी में छुपा हुआ था। हाथ लगाते ही करंट लगा और पिता पुत्र की मौत करंट की चपेट में आने से मौके पर ही हो गई। करंट की घटना कैसे हुई हालांकि यह मामला पुलिस की छानबीन में पूरी तरह से सामने आएगा, जिसमें सुंदरनगर पुलिस जुट चुकी है, परंतु मौके पर करंट लगने के बाद दोनों पिता-पुत्र को दर्जनों ग्रामीण लोगों द्वारा करसोग हॉस्पिटल लाया गया, ताकि वे बच सके, परंतु चिकित्सकों ने उन्हें मृत घोषित कर दिया और देर शाम पोस्टमार्टम प्रक्रिया अमल में लाकर शव परिजनों के हवाले कर दिए।

Next Story