Top
Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

हिमाचल में कोरोना का कहर जारी, प्रदेश में मरने वालों का आंकड़ा 205 के पार

हिमाचल में कोरोना से मरने वालों का आंकड़ा लगातार बढ़ता जा रहा है। आईजीएमसी में कोविड से सात मरीजों ने दम तोड़ दिया है। तीन घंटे के भीतर ही पांच मरीजों की शनिवार को मौत हो गई, जबकि एक मरीज ने दो अक्तूबर को देर रात 11 बजे दम तोड़ा था।

हिमाचल में कोरोना का कहर जारी, प्रदेश में मरने वालों का आंकड़ा 205 के पार
X
प्रतीकात्मक तस्वीर

हिमाचल में कोरोना से मरने वालों का आंकड़ा लगातार बढ़ता जा रहा है। आईजीएमसी में कोविड से सात मरीजों ने दम तोड़ दिया है। तीन घंटे के भीतर ही पांच मरीजों की शनिवार को मौत हो गई, जबकि एक मरीज ने दो अक्तूबर को देर रात 11 बजे दम तोड़ा था। प्रदेश में कोविड से मरने वालों का आंकड़ा 205 से ऊपर चला गया है, जबकि डेथ रेट भी 1.22 प्रतिशत हो गई है। लगातार मरने वालों का आंकड़ा बढ़ने से लोगों में डर का माहौल है। स्वास्थ्य विभाग भी कोविड-19 से मरने वालों का आंकड़ों को कम करने का प्रयास कर रहा है। सीएमओ डा. सुरेखा चौपड़ा ने कोविड से मरने वालों की पुष्टि की है।

जानकारी के अनुसार आईजीएमसी में 59 साल के शिमला के रहने वाले व्यक्ति ने दम तोड़ा है। इन्हें कोविड के लक्षण थे। इन्हें पहली अक्तूबर को भर्ती करवाया गया था। आइसोलेशन वार्ड में ट्रीटमेंट चल रहा था। शनिवार सुबह 10ः50 मिनट पर मौत हो गई। इसके अलवा 61 साल की रोहडू की रहने वाली महिला की भी यहां कोविड से मौत हो गई है। शरीर में ऑक्सीजन की कमी हो गई थी। इन्हें दो अक्तूबर को यहां गंभीर हालत में लाया गया था। इनकी भी दोपहर 12ः25 पर मौत हो गई है। तीसरी मौत नाहन के रहने वाले 78 साल की महिला की भी आईजीएमसी में मौत हो गई है। इनके शरीर में भी ऑक्सीजन की कमी हो गई थी, जिसके बाद इन्हें ऑक्सीजन दी गई। इन्हे 26 सितंबर को यहां उपचार के लिए भर्ती करवाया गया था, लेकिन तबीयत बिगड़ने पर सुबह 12ः50 पर मौत हो गई। चौथी मौत आईजीएमसी में 36 साल के एक पुरुष की भी मौत हो गई है। इन्हें लीवर का कैंसर था। उपचार के लिए यहां आईजीएमसी आए थे। यहां आपातकाल में इनका कोविड का टेस्ट लिया गया, जिसमें रिपोर्ट पॉज़िटिव आई। इसके बाद इन्हें आइसोलेशन वार्ड शिफ्ट कर दिया। दोपहर 1ः50 पर इनकी मौत हो गई।

चौपाल-सुंदरनगर के संक्रमित ने शिमला में तोड़ा दम

पांचवी मौत चौपाल के सराहां के रहने वाले 77 साल के बुजुर्ग की भी आईजीएमसी में मौत हो गई है। 23 को यह आईजीएमसी हार्ट की बीमारी से संबंधित उपचार को पहुंचे थे। यहां कोविड टेस्ट में यह पॉज़िटिव आए। इसके बाद यह आइसोलेशन वार्ड में थे। दो अक्तूबर देर रात 11 बजे इनकी मौत हो गई थी। वहीं, छठीं मौत सुंदरनगर के रहने वाले 47 व्यक्ति की भी आईजीएमसी में कोविड-19 से मौत हो गई है। इन्हें 30 सितंबर को यहां लाया गया था। यह कोविड से ग्रसित थे। ऑक्सीजन लेवल भी लगातार कम हो रहा था। शनिवार देर शाम इनकी मौत हो गई।

कांगड़ा में अब तक 50 मौतें

कांगड़ा जिला में कोरोना संक्रमण से मरने वालों का सिलसिला जारी है। शनिवार को जिला में तीन कोरोना संक्रमितों की मौत हुई है, जिससे जिला में कोरोना से मरने वालों का आंकड़ा अब 50 हो गया है। सीएमओ कांगड़ा डा. गुरदर्शन गुप्ता ने बताया कि बैजनाथ तहसील के ननबड़ से 56 वर्षीय व्यक्ति की उसके घर पर ही मौत हो गई। फेफड़ों में संक्रमण से पीडि़त इस व्यक्ति ने अस्पताल जाने से पहले ही दम तोड़ दिया।

वहीं, फतेहपुर तहसील के कडूंर गांव से 67 वर्षीय बुर्जुग की कोविड अस्पताल धर्मशाला में मौत हो गई। इनके अलावा मोहाली से माइग्रेट नगरोटा बगवां से 50 वर्षीय व्यक्ति ने भी कोरोना से दम तोड़ दिया। व्यक्ति को निमोनिया सहित अन्य शिकायत थी तथा इसे बीते दिन ही टांडा मेडिकल कालेज में दाखिल किया गया था।

Next Story