Top
Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

सीएम जयराम ठाकुर बोले- पौंग डैम में बर्ड फ्लू से पक्षियों की मौत चिंताजनक

मुख्यमंत्री जयराम ठाकुर आज धर्मशाला और कांगड़ा के दौरे पर हैं। सीएम ने यहां स्थानीय प्रशासन के अधिकारियों एवं जनप्रतिनिधियों की बैठक बुलाई तथा कोविड-19 की स्थिति का जायजा भी लिया।

सीएम जयराम ठाकुर आज धर्मशाला दौरे पर, कोरोना की स्थिति का लिया जायजा
X

बैठक में उपस्थित सीएम जयराम ठाकुर 

मुख्यमंत्री जयराम ठाकुर आज धर्मशाला और कांगड़ा के दौरे पर हैं। सीएम ने यहां स्थानीय प्रशासन के अधिकारियों एवं जनप्रतिनिधियों की बैठक बुलाई तथा कोविड-19 की स्थिति का जायजा भी लिया। सीएम ने कहा कि कोरोना महामारी से निपटने के लिए स्थानीय प्रशासन प्रभावी कार्य कर रहा है। उन्होंने जनता से आग्रह किया की कोरोना से बचाव हेतु सावधानियां बरतें।

वहीं कांगड़ा में बर्ड फ्लू से पक्षियों की मौत पर सीएम जयराम ठाकुर ने कि बर्ड फ्लू से निपटने के लिए हमने प्रदेश पशुपालन विभाग को भी जिम्मेदारी सौंपी है। आशा करता हूं कि इस बीमारी से शीघ्र निजात मिलेगी। प्रदेशवासियों से आग्रह है कि बर्ड फ्लू से संबंधित दिशानिर्देशों का पालन करें। सीएम ने कहा कि कांगड़ा जिले में स्थित झील, पौंग बांध में बर्ड फ्लू से पक्षियों की मौत होना चिंताजनक है। हमने धर्मशाला में बर्ड फ्लू की स्थिति और तैयारियों को लेकर स्थानीय प्रशासन से बैठक कर आगामी रूपरेखा तैयार की। इस बीमारी से निपटने हेतु हमारी सरकार गंभीर है।

सीएम ने बताया कि आज वैक्सीन के प्रबंधन को लेकर सरकार ने उचित प्रावधान कर लिए हैं। आज हमने धर्मशाला अस्पताल में कोविड-19 वैक्सिन के ड्राय रन का निरीक्षण कर तैयारियों का जायजा लिया। वैक्सिन को शीघ्र उपलब्ध करवाने के लिए हम प्रयासरत हैं।

वहीं आपको बताते चलें कि मौजूदा समय में कोरोना हिमाचल में सिमटना शुरू हो गया है। सीएम ने भी लोगों को एहतियत बरतने की सलाह दी है। हिमाचल में संक्रमण का रिकवरी रेट 96 फीसदी पहुंच गया है। गुरुवार को राज्य में मौत का एक भी मामला सामने नहीं आया है, जो कि हिमाचल के लिए राहत भरी खबर है। वहीं प्रदेश में कल 36 नए संक्रमित मिले हैं, जबकि 127 इससे ठीक हुए हैं।

राज्य में आठ जिलों में कोरोना खात्मे की ओर है। यहां पर एक्टिव मरीजों की संख्या 100 से भी कम हो गई है। लाहुल-स्पीति में एक्टिव मरीज सबसे कम 13 है, जबकि किन्नौर में 25, चंबा में 49, बिलासपुर में 56, सिरमौर 73, ऊना 74, हमीरपुर 79 और सोलन में 86 ही एक्टिव मरीज रह गए हैं। इसके अलावा कांगड़ा में एक्टिव मरीज 309 रह गए हैं। वहीं, मंडी में 249 और शिमला में 134 एक्टिव मरीज बचे हैं।

Next Story