Top
Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

हिमाचल में अब सरकारी कर्मचारी हर शनिवार को घर से करेंगे काम, जानें क्यों लिया गया ये फैसला

हिमाचल प्रदेश में बढ़ते कोरोना के मामलों को देखते हुए राज्य सरकार ने बड़ा लिया है। सरकार ने सरकारी कर्मचारियों के दफ्तर आने के दिन को लेकर नया आदेश जारी कर दिया है।

Covid-19: हिमाचल में अब सरकारी कर्मचारी हर शनिवार घर से करेंगे काम
X

प्रतीकात्मक तस्वीर

हिमाचल प्रदेश में बढ़ते कोरोना के मामलों को देखते हुए राज्य सरकार ने बड़ा लिया है। सरकार ने सरकारी कर्मचारियों के दफ्तर आने के दिन को लेकर नया आदेश जारी कर दिया है। अब नए नियम के मुताबिक, सभी सरकारी कर्मचारियों में संविदा, दैनिक वेतन, अंशकालिक और आउटसोर्सिंग के आधार पर काम करने वाले कर्मचारी सभी वर्किंग डे पर अपने दफ्तर से काम करेंगे। वहीं हर शनिवार को कर्मचारियों को वर्क फ्रॉम होम करना होगा। हिमाचल सरकार का ये नया नियम 1 दिसंबर से लागू किया जाएगा।

चिंतपूर्णी में दिखा बंद का असर

सरकार के निर्देशों के बाद रविवार को बंद का असर चिंतपूर्णी में भी देखने को मिला। वैसे तो रविवार को श्रद्धालुओं की भी भीड़ देखने को मिली, लेकिन प्रसाद की दुकानें बंद होने से श्रद्धालुओं को दिक्कतों का सामना करना पड़ा। दुकानें बंद होने के कारण श्रद्धालु बाजार में ही अपने जूते-चप्पल खोल माता चिंतपूर्णी के दर्शनों के लिए जाते देखे गए। हालांकि इस दौरान होटल, ढाबे, दूध व सब्जी की दुकानें खुली रहीं। वहीं, चिंतपूर्णी पुलिस ने बाजार का निरीक्षण किया और बाजार में बिना मास्क के घूम रहे श्रद्धालुओं के चालान काटे और लोगों को कोरोना को लेकर जागरूक किया।

शादियों के सीजन के दौरान रविवार बंद, लोगों को हुई परेशानी

उपमंडल जवाली के अधीन आते समस्त बाजार रविवार को पूर्णतया बंद रहे। बाजारों में एकदम से सन्नाटा पसरा रहा। बसों के न आने से जवाली का बस अड्डा सुनसान दिखा तथा सड़कों पर भी वाहनों को आवाजाही नाममात्र ही रही। रविवार बंद होने से सबसे ज्यादा परेशानी टेंट हाउस वालों व डीजे वालों को हुई। टेंट हाउस वालों ने रविवार को होने वाली शादियों में टेंट लगाने थे, लेकिन रविवार बंद होने से उनको टेंट ले जाने में काफी परेशानी हुई, कुछ ऐसा ही डीजे वालों के साथ भी घटित हुआ। जवाली के जिन बाजारों में तिल धरने को जगह नहीं होती थी उनमें रविवार को कोई भी नहीं दिखा। रविवार को दुकानदारों व आम जनता ने सरकार के पूर्णतया बंद का समर्थन किया तथा इस निर्णय की सराहना भी की।

Next Story