Top
Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

हिमाचल में दिसंबर से मार्च के बीच हो सकती हैं कक्षा 1 से 8वीं तक की परीक्षाएं

हिमाचल प्रदेश में सरकारी स्कूलों की कक्षा एक से 8वीं तक की वार्षिक परीक्षाएं दिसंबर या मार्च में होने का फैसला कैबिनेट की बैठक में हो सकता है। आपको बताते चलें की 23 नवंबर को मंत्रीमंडल की होनी तय है।

स्वास्थ्य विवि ने आयोजित की लिखित स्क्रीनिंग परीक्षा, 28 को घोषित होगा परिणाम
X
परीक्षा (प्रतीकात्मक फोटो)

हिमाचल प्रदेश में सरकारी स्कूलों की कक्षा एक से 8वीं तक की वार्षिक परीक्षाएं दिसंबर या मार्च में होने का फैसला कैबिनेट की बैठक में हो सकता है। आपको बताते चलें की 23 नवंबर को मंत्रीमंडल की होनी तय है। जिसमें बच्चों की परीक्षा पर फैसला हाेगा। शीतकालीन छुट्टियों वाले स्कूलों की मार्च 2021 में वार्षिक परीक्षाएं लेने के एलान पर पुनर्विचार शुरू हो गया है। विभागीय अधिकारी दिसंबर में ही वार्षिक परीक्षाएं लेकर इस शैक्षणिक सत्र को समाप्त करने के मूड में हैं। उधर, ग्रीष्मकालीन स्कूलों में हर साल की तरह मार्च में ही आठवीं कक्षा तक परीक्षाएं लेने का प्रस्ताव है।

प्रारंभिक शिक्षा निदेशालय और समग्र शिक्षा अभियान के राज्य परियोजना कार्यालय ने बीते दिनों विस्तृत चर्चा के बाद दिसंबर में होने वाली पहली से आठवीं कक्षा तक परीक्षाओं के प्रश्नपत्र तैयार करने के शिक्षकों को निर्देश दिए हैं। माना जा रह है कि डेटशीट कैबिनेट बैठक के फैसले के बाद बनेगी। परीक्षाएं ऑनलाइन करवाने का प्रस्ताव है। कोरोना के बढ़ते मामलों पर अधिकारी विद्यार्थियों को स्कूल बुलाने के मूड में नहीं हैं। कैबिनेट बैठक के लिए कई विकल्पों को शामिल कर प्रस्ताव तैयार किया है।

इसके तहत दिसंबर में पहली से आठवीं कक्षा तक शीतकालीन स्कूलों में परीक्षाएं करवाने की योजना है। प्रस्ताव में कहा गया है कि फर्स्ट और सेकेंड टर्म की परीक्षाओं के आधार पर पहली से आठवीं कक्षा का रिजल्ट तैयार किया जाएगा। प्रस्ताव मंजूर होने से जनवरी और फरवरी में भी पहली से आठवीं कक्षा की कक्षाएं लगाने की जरूरत नहीं पड़ेगी। विद्यार्थियों को हर वर्ष असेसमेंट आधार पर ही पास किया जाता है। राइट टू एजूकेशन एक्ट के चलते इन कक्षाओं में विद्यार्थियों को फेल नहीं किया जाता है।

Next Story