Top
Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

घर में लाइटर से खेल रहे थे बच्चे अचानक लगी आग, एक बच्चे की झुलसकर मौत

जिला कुल्लू के भुंतर में सब्जी मंडी के पास एक मकान में आग लगने से एक बच्चे की झुलसकर मौत हो गई। जानकारी के अनुसार नगर पंचायत भुंतर की विश्वकर्मा कलोनी में स्थित मकान में आधी रात को आग लग गई। मकान में किराए पर रह रहे एक नेपाली मूल के परिवार के छह साल व अढ़ाई साल के दो बच्चे भी झुलस गए।

घर में लाइटर से खेल रहे थे बच्चे अचानक लगी आग, एक बच्चे की झुलसकर मौत
X
प्रतीकात्मक तस्वीर

जिला कुल्लू के भुंतर में सब्जी मंडी के पास एक मकान में आग लगने से एक बच्चे की झुलसकर मौत हो गई। जानकारी के अनुसार नगर पंचायत भुंतर की विश्वकर्मा कलोनी में स्थित मकान में आधी रात को आग लग गई। मकान में किराए पर रह रहे एक नेपाली मूल के परिवार के छह साल व अढ़ाई साल के दो बच्चे भी झुलस गए। दोनों बच्चों को देर रात को ही कुल्लू अस्पताल में भर्ती करवाया गया था, लेकिन शनिवार को छोटे बच्चे ने दम तोड़ दिया। जानकारी के अनुसार मकान शमशी निवासी अविनाश कुमार का था और नेपाल निवासी राम बहादुर (30) अपने परिवार के साथ तीन साल से इसमें किराए पर रहता था। जिस वक्त यह हादसा हुआ, उस समय राम बहादुर लाशनी में सेब-टमाटर की लोडिंग का कार्य कर रहा था, तो उसकी पत्नी पास ही दुकान से सब्जी लाने गई थी।

बताया जा रहा है कि घर में दोनों बच्चे आग जलाने के लाइटर के साथ खेल रहे थे और कमरे की दीवार में चारों तरफ व छत के तख्तों में अखबार लगी थी। लाइटर के जलने से दीवार में लगी अखबारों में आग लग गई और तेजी से भड़ककर पूरे मकान को अपनी चपेट में ले लिया। आग की भनक लगते ही आसपास के लोग भी तुरंत मौके पर पहुंचे और आग बुझाने में लग गए, तो साथ ही अग्निशमन विभाग और पुलिस को भी इसकी सूचना दी। पुलिस उपअधीक्षक कुल्लू प्रियांक और पुलिस की टीम भी मौके पर पर पहुंची।

एक लाख का नुकसान, 25 लाख की संपत्ति बचाई

अग्निशमन विभाग के साथ मिलकर बाद में आग पर काबू पाया गया। आग से करीब एक लाख रुपए की संपत्ति जलकर राख हो गई, लेकिन करीब 25 लाख की संपत्ति को जलने से बचाया गया। आग के कारण दोनों ही लड़के झुलस गए थे, जिन्हें पुलिस की टीम ने तेगुबेहड़ अस्पताल पहुंचाया, तो वहां से उन्हें कुल्लू अस्पताल रैफर किया गया, लेकिन शनिवार को दुखद तौर पर छोटे बच्चे ने दम तोड़ दिया। आग लगने के बाद प्रशासन और राजस्व विभाग की टीम भी मौके पर पहुंची और नुकसान का जायजा लेना शुरू कर दिया। भुंतर के तहसीलदार दीक्षांत ठाकुर के अनुसार प्रभावितों को नियम के तहत मुआवजा दिया जाएगा। आग की घटना के बाद स्थानीय लोग भी प्रभावित परिवार की मदद को आगे आए हैं, तो संकट की घड़ी में साथ दिया है।

Next Story