Top
Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

बीएससी नर्सिग हॉस्टल: इकलौती संतान ने ऐसे किया सुसाइड, मां का रो-रोकर बुरा हाल

हिमाचल प्रदेश की छात्रा ने पंजाब में आत्महत्या की है। बताया जा रहा है कि छात्रा बीएससी नर्सिग की पढ़ाई कर रही थी। युवती कांगड़ा की रहने वाली थी और होशियारपुर-चंडीगढ़ रोड पर स्थित रयात बाहरा कॉलेज के ग‌र्ल्स हॉस्टल (Girls Hostel) के एक कमरे में छात्रा का शव फंदे से लटका मिला है।

जेल में बंद एसडीओ ने फंदा लगाकर की आत्महत्या, पुलिस ने 13 लोगों के खिलाफ मामला दर्ज किया
X
खुदकुशी (प्रतीकात्मक फोटो)

हिमाचल प्रदेश की छात्रा ने पंजाब में आत्महत्या की है। बताया जा रहा है कि छात्रा बीएससी नर्सिग की पढ़ाई कर रही थी। युवती कांगड़ा की रहने वाली थी और होशियारपुर-चंडीगढ़ रोड पर स्थित रयात बाहरा कॉलेज के ग‌र्ल्स हॉस्टल (Girls Hostel) के एक कमरे में छात्रा का शव फंदे से लटका मिला है। मृत छात्रा की पहचान 22 वर्षीय सुरभि निवासी प्रेई (शाहपुर) के रूप में हुई है। आत्महत्या के कारणों का अभी पता नहीं चल सका है।

बताया जा रहा है कि लॉकडाउन के बाद कॉलेज बंद हो गए थे और सुरभि गांव लौट गई थी। लेकिन हाल ही में रविवार को उसके परिजन उसे कॉलेज छोड़कर गए थे। परिवार वालों ने इसके बाद सुरभि से फोन पर उनकी बात हुई थी। जिसमें कुछ ऐसा नहीं लगा कि वह परेशान है। वहीं परिवार वालो ने बताया कि गुरुवार को कॉलेज से फोन आया कि सुरभि ने आत्महत्या कर ली है। परिवार वाले इससे पहले अपने इकलोते बेटे को खो चुके हैं। परिवार वालों का कहना है कि हमारी बैटी पढ़ाई में होशियार थी।

क्या कहना है परिवार वालों का

आपको बता दें कि छात्रा के पिता हिमाचल पुलिस में हेड कांस्टेबल के पद पर तैनात हैं। परिवार में दो भाई बहन ही थे। बेटे की पहले ही मौत हो चुकी है। अब बेटी की मौत से परिवार पुरी तरह से टूट चुका है। परिवार वालों का कहना है कि सुरभि के साथ-साथ उनका एक बेटा था, जो कि जन्म से ही असामान्य था और पिछले साल बेटे अर्णव की मौत हो गई थी। आशीष ने बताया कि सुबह जब वह घर से निकले थे तो सुरभि की मौत का पता था, परंतु पत्नी को कुछ नहीं बताया था। जांच अधिकारी थाना चब्बेवाल के एएसआई राकेश कुमार ने बताया कि आत्महत्या के कारणों का पता नहीं चल सका है। पुलिस जांच में जुटी है।

Next Story