Top
Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

हिमाचल के सेब कारोबारियों पर स्कैब की मार, पिछली साल के मुकाबले सेब की कीमत हुई आधी

हिमाचल में काेरोना वायरस के कारण सेब पर इस बार दवाईयां समय पर न होने के कारण सेब की फसल पर इस बार बुरा प्रभाव पड़ा है। कश्मीर का सेब मार्केट में 300 से 500 रुपये प्रति पेटी बिक रहा है।

हिमाचल के सेब कारोबारियों पर स्कैब की मार, पिछली साल के मुकाबले सेब की कीमत हुई आधी
X
प्रतीकात्मक तस्वीर

हिमाचल में काेरोना वायरस के कारण सेब पर इस बार दवाईयां समय पर न होने के कारण सेब की फसल पर इस बार बुरा प्रभाव पड़ा है। कश्मीर का सेब मार्केट में 300 से 500 रुपये प्रति पेटी बिक रहा है। कश्मीरी सेब बाजार में आने के कारण इस बार हिमाचल के सेब कारोबारियों को अच्छा खासा नुकसान हो रहा है। बाजार में कश्मीरी सेब के आने से हिमाचली सेब भी सस्ते दामों में बिक रहा है। क्योंकि कश्मीरी सेब पर स्कैब की भी मार है। स्कैब बीमारी के कारण सेब की क्वालिटी पर बुरा असर पड़ा है।

किन्नौर का अच्छी क्वालिटी का सेब मंडियों में 1000 से 1300 रुपये प्रति 10 किलो पेटी के दाम पर बिक रहा है। बीते वर्ष अक्तूबर महीने की शुरुआत में किन्नौरी सेब की 10 किलो की पेटी का दाम 1500 से 1800 रुपये के बीच था। इस साल सस्ते कश्मीरी सेब के कारण किन्नौर के सेब को अच्छे दाम नहीं मिल रहे हैं। जानकारों का कहना है कि बाजार में सस्ता कश्मीरी सेब उपलब्ध होने के चलते खरीदार महंगे किन्नौरी सेब को नहीं खरीद रहें हैं।

सेब की किमतों में इस बार अधिक गिरावट होने से किन्नौर के सेब उत्पादक व सेब कारोबारी परेशान हैं। सेब कारोबारियों का कहना हैं कि अगर कोरोना बिमारी नहीं आती तो सेब के दाम पहले जितने की होते। कोरोना के कारण सेब व अन्य फसलों पर भी इसका प्रभाव पड़ा है।

Next Story