Top
Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

हिमाचल के स्कूलों में फुटा काेरोना बम, अकेले मंडी जिले में निकले 115 बच्चे पॉजिटिव

कोरोना महामारी अब हिमाचल के स्कूलों में पांव पसार रही है। शनिवार को मंडी जिला के शिक्षण संस्थाओं में इसका प्रकोप देखने को मिला, इनमें 115 से ज्यादा छात्र, अध्यापक और स्टाफ पॉजिटिव पाया गया। इनमें 109 संक्रमित स्कूलों से ही हैं।

हिमाचल के स्कूलों में फुटा काेरोना बंम, अकेले मंडी जिले में निकले 115 बच्चे पॉजिटिव
X

प्रतीकात्मक तस्वीर

कोरोना महामारी अब हिमाचल के स्कूलों में पांव पसार रही है। शनिवार को मंडी जिला के शिक्षण संस्थाओं में इसका प्रकोप देखने को मिला, इनमें 115 से ज्यादा छात्र, अध्यापक और स्टाफ पॉजिटिव पाया गया। इनमें 109 संक्रमित स्कूलों से ही हैं, जबकि एक दिन में ही मंडी जिले में 187 नए मामले आए। अकेले चौंतड़ा स्थित तिबेतन स्कूल सोजा में एक साथ 92 मामले सामने आए हैं, जिसमें 67 स्कूली बच्चे शामिल हैं, जबकि 25 अध्यापक व स्टाफ के अन्य लोग शामिल हैं। हालंकि कोरोना संक्रमित सभी बच्चे अन्य राज्यों से यहां पढ़ाई पूरी करने के लिए पहुंचे हैं। सीनियर सेकेंडरी स्कूल मंडी (कन्या) में सात अध्यापक, सीनियर सेकेंडरी स्कूल द्राहल में तीन छात्र, सीनियर सेकेंडरी स्कूल मकरीड़ी में तीन छात्र, आईटीआई मंडी (द्रंग) में एक अध्यापक और आईटीआई पद्धर में चार विद्यार्थी व एक शिक्षक संक्रमित मिले हैं।

बता दें कि शुक्रवार तक ही मंडी जिला में विभिन्न शिक्षण संस्थाओं में 107 अध्यापक, बच्चे व अन्य लोग संक्रमित हो चुके थे। शुक्रवार को जिला के स्कूलों में 23 अध्यापक कोरोना संक्रमित मिले हैं। उधर, शनिवार को नेरचौक मेडिकल कालेज में कांगड़ा व लाहुल-स्पीति के संक्रमितों की मौत होने के साथ 187 नए मामले सामने आए हैं, जिससे मंडी जिला में अब लोगों की चिताएं फिर से बढ़ गई हैं। जिला में कोरोना संक्रमण की दूसरी लहर का प्रवेश माना जा रहा है। उधर,टीसीवी स्कूल में कोरोना संक्रमण के 92 मामलों से 67 स्कूली बच्चे शामिल हैं, जो कि 10वीं से 12वीं कक्षा के विद्यार्थी हैं, जिसमें 47 छात्राएं व 20 छात्र शामिल हैं, जबकि स्कूल में स्टाफ 25 लोग संक्रमित मिले हैं। ये सभी बच्चे अपनी पढ़ाई पूरी करने के लिए महाराष्ट्र्र, नेपाल, अरुणाचल प्रदेश और लद्दाख से 26 अक्तूबर से लेकर 31 अक्तूबर के बीच हवाई मार्ग से पहुंचे हैं।

स्कूल में पहुंचने के बाद प्रशासन ने इन सबके कोरोना सैंपल करवाए थे। वहीं, कोरोना संक्रमण के मामले सामने आने के बाद संबंधित शिक्षण संस्थाओं को कुछ समय के लिए बंद भी किया गया है और संक्रमितों के संपर्क में आए अन्य विद्यार्थियों व अध्यापकों के सैंपल लेने की प्रक्रिया भी प्रशासन ने शुरू कर दी है। सीएमओ मंडी डा. देवेंद्र शर्मा ने शनिवार को शिक्षण संस्थाओं में एक साथ इतने मामले कोरोना संक्रमण के आने की पुष्टि की है। उन्होंने बताया कि सबको नियमानुसार आइसोलेट किया जा रहा है।

बाहरी राज्यों से आए थे बच्चे

छात्रों के पॉजिटिव आने के बाद सरकार के प्रवक्ता ने बताया कि तिबेतन स्कूल सूजा में कोरोना का पता, प्रशासन के सक्रिय दृष्टिकोण से चलाए विशेष जांच अभियान में चला। इसके बाद प्रशासन ने रूटीन एन्हांसड टेस्टिंग की। जयराम सरकार के प्रवक्ता ने बताया कि प्रदेश सरकार द्वारा शीघ्र लिए गए निर्णय के कारण ही इन विद्यार्थियों में कोरोना संक्रमण का पता चल पाया है। जिला प्रशासन ने स्कूल परिसर में उपलब्ध व्यवस्था का जायजा लेने के बाद पर्याप्त इंतजामों को देखते हुए उन्हें वहां आइसोलेट कर दिया है। उन्होंने कहा कि हालांकि प्रदेश सरकार ने भारत सरकार के दिशा-निर्देशों के अनुसार सभी बैरियर खोले हैं। सरकार द्वारा सभी एहतियाती कदम उठाए जा रहे हैं, ताकि यह सुनिश्चित किया जा सके कि राज्य के बाहर से कोई भी संक्रमित व्यक्ति प्रदेश में न रहे और स्थानीय लोगों की सुरक्षा की जा सके। प्रदेश में कोरोना संक्रमण जांच की संख्या बढ़ाई गई है और रोजाना लगभग छह हजार टेस्ट किए जा रहे हैं।

Next Story