Top
Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

नाबालिक लड़की से चार माह तक बंधक बनाकर दुष्कर्म, तीन लोग गिरफ्तार

बिलासपुर जिला के बरमाणा थाना के अंतर्गत एक नाबालिक लड़की के साथ दुष्कर्म का मामला सामने आया है । प्राप्त सुचना के अनुसार एक नाबालिक लड़की जिसकी आयु 17 वर्ष 6 माह है को नम्होल क्षेत्र का एक युवक ने अप्रैल माह में फ़ोन करके मिलने बुलाया जहा से वह उसे पैदल रास्ते से काफी आगे ले आया जब यह लड़का उक्त लड़की के साथ मेंन रोड पर पहुंचा तो वहाँ एक कार आई जिसमे 3 लोग पहले से ही सवार थे जिनमे से एक उपप्रधान भी था।

नाबालिक लड़की से चार माह तक बंधक बनाकर दुष्कर्म, तीन लोग गिरफ्तार
X
प्रतीकात्मक तस्वीर

बिलासपुर जिला के बरमाणा थाना के अंतर्गत एक नाबालिक लड़की के साथ दुष्कर्म का मामला सामने आया है । प्राप्त सुचना के अनुसार एक नाबालिक लड़की जिसकी आयु 17 वर्ष 6 माह है को नम्होल क्षेत्र का एक युवक ने अप्रैल माह में फ़ोन करके मिलने बुलाया जहा से वह उसे पैदल रास्ते से काफी आगे ले आया जब यह लड़का उक्त लड़की के साथ मेंन रोड पर पहुंचा तो वहाँ एक कार आई जिसमे 3 लोग पहले से ही सवार थे जिनमे से एक उपप्रधान भी था। उस लड़के ने इस लड़की को जबरदस्ती कार में बिठाया जहाँ से यह उसे अपने घर पोहनी नम्होल ले गया।

जिसके बाद यह लड़का उसे अपनी मासी के घर ले गया जो इसके घर से करीब दो तीन किमी आगे था। वहाँ पर उस लड़के ने इस लड़की को करीब 10-12 दिन रखा जिसके बाद दुबारा से वह पैदल जंगल के रास्ते से अपने घर ले आया और बीच रास्ते में जंगल में इसने इसके साथ दुष्कर्म किया। इस जंगल में यह नाबालिक लड़की चीखती चिलाती रही पर वहा पर किसी ने उसकी चींख पुकार नही सुनी। जिसके बाद यह उसे अपने घर ले आया। घर पहुँचते ही उसने इस लड़की को अपने भाई के हवाले कर दिया। जिसके बाद इसके भाई ने भी इसके साथ दुष्कर्म किया और इसके साथ मारपीट की। इन लोगो ने इस लड़की को अपने घर में बंधक बना कर रखा और इसके साथ दुष्कर्म करते और उससे घर का सारा काम करवाते।

शोषित लड़की ने पुलिस को दिए ब्यान में बताया की इन लडको के पिता के पास दो बंदूके है और जब यह वहा पर बंधक बना रखी थी उस दौरान दो बार इनके बाप ने इस पर बन्दुक तान कर इसे धमकाया की यदि तूने आगे किसी को इस बारे में बताया तो तुझे जान से मार देंगे । इस तरह यह लड़की लगभग चार माह तक इस घर में बंधक बनी रही और दोनों भाई इससे घर का सारा काम करवाते थे और इसके साथ दुष्कर्म करते रहे । लड़की ने बताया कि वह छोटी जाती से संबधित है और आरोपी राजपूत जाती से संबधित है। इस करके यह सभी लोग इसका शोषण करते थे।

शनिवार सुबह यह लड़की इनके चंगुल से भाग गई और बिटियाँ फाउंडेशन की राष्ट्रिय अध्यक्षा सीमा संख्यांन के पास पहुंची । सीमा संख्यांन ने इस लड़की की तरफ से एसपी बिलासपुर के पास शिकायत दर्ज करवाई जिसके बाद अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक अनिल शर्मा खुद बरमाना थाना पहुंचे और शनिवार देर रात को इस लडके को शिमला से गिरफ्तार कर लिया । इसके अलावा अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक ने रविवार को नम्होल के पोहनी क्षेत्र में इन लडको के घर दबिश दी और इसके घर से इस लड़के के भाई और पिता को गिरफ्तार कर लिया। अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक इस मामले को खुद देख रहे है और शनिवार से बरमाना थाने में डटे हुए है।

दोनों भाइयो और उनके पिता को गिरफ्तार कर लिया गया था। जबकि पूर्व उपप्रधान व कार वाला लड़का अभी पुलिस के शिकंजे से बाहर थे। पुलिस इन दोनों लोगो को पकड़ने का प्रयास कर रही है। उमीद है कि पुलिस इन दोनों व्यक्तियों को भी जल्द हिरासत में ले लेगी।

इस मामले की पुष्टि करते हुए बिलासपुर पुलिस अधीक्षक दिवाकर शर्मा ने कहा कि बिटियाँ फाउंडेशन की शिकायत पर बरमाना थाने में आईपीसी की धारा 363, 366, 342, 376, 34 , पोक्सो एक्ट के तहत सेक्शन 4 व 6 , SC/ST एक्ट की धारा 3(1) के तहत मुकदमा दर्ज कर पुलिस आगामी जांच में जुट गई है इस मामले की जांच खुद अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक कर रहे है। अभी तक पुलिस ने तीन लोगो को गिरफ्तार कर लिया है अन्य दो व्यक्ति को भी पुलिस जल्द गिरफ्तार कर लेगी।

Next Story